विशेष

National: विपक्षी पार्टियों का प्लान, राष्ट्रपति से करेंगे मुलाकात, करेंगे ये अपील

नई दिल्ली। (National) कृषि बिल को राज्यसभा में मचे हंगामे के बाद अब विपक्षी पार्टियां राष्ट्रपति से मुलाकात की योजना बना रही है। कई विपक्षी पार्टियों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath kovind) से समय मांगा है। विपक्ष इस मुलाकात में राष्ट्रपति से मिलकर कृषि संबंधित बिलों पर हस्ताक्षर न करें और इस बिल को वापस लौटा देने का अपील करेगा।

विपक्ष कराएंगा अपनी चिंताओं से अवगत

(National) विपक्ष इस मुकालात में कृषि बिल को लेकर अपनी चिंताओं से राष्ट्रपति को अवगत कराएगा। साथ ही साथ रविवार को राज्यसभा में क्या हुआ इसकी जानकारी भी देगा। (National) वह इसके अलावा विपक्ष के निलंबित 8 सांसदों का मुद्दा भी उठाएगा ताकि उन्हें फिर से संसद का हिस्सा बनाया जा सके।

JNU प्रवेश परीक्षा की तारीखें जारी, इस दिन से होगा एग्जाम, ऐसे डाउनलोड करें एडमिट कार्ड

कृषि बिल के विरोध में कल राज्यसभा में विपक्ष ने जमकर हंगामा किया था. नौबत तो यह आ गई थी कि सासंदों ने माइक तोड़ डाले. इस बीच कार्रवाई करते हुए विपक्ष के 8 सांसदों को निलंबित किया गया है. । (Rajya Sabha)  मगर राज्यसभा में निलंबित सदस्यों के सदन से बाहर नहीं जाने के कारण आज सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गयी।

Rajya Sabha: निलंबित सांसद राज्यसभा से बाहर नहीं जाने पर अड़े, सदन की कार्यवाही स्थगित

नहीं माने निलंबित सांसद

चार बार के स्थगन के बाद जब सदन की कार्यवाही 12 बजे शुरू हुई।। (Rajya Sabha)  पीठासीन अधिकारी भुवनेश्वर कालिता ने कहा कि निलंबित सदस्य सदन से बाहर चले जायें। जिससे सदन की कार्यवाही चलायी जा सके।

उन्होंने कहा कि सदन में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद को बोलने की अनुमति दी गयी है लेकिन इससे पहले निलंबित सदस्यों के सदन से बाहर जाना होगा।इस पर विपक्षी दल कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, आप के सदस्य नारेबाजी करने लगे।

विपक्षी सदस्यों का शोर शराबा  रहा जारी

उप सभापति ने सदस्यों से कहा कि वे अपनी सीटों पर चले जायें तो विपक्ष के नेता अपनी बात रख सकते हैं। लेकिन विपक्षी सदस्यों का शोर शराबा जारी रहा। स्थिति को देखते हुए कालिता ने सदन की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button