छत्तीसगढ़

Chhattisgarh: कार्य में लापरवाही पड़ी महंगी,महावीरगंज के धान खरीदी प्रभारी को कारण बताओ नोटिस, कलेक्टर ने 3 दिन के भीतर मांगा जवाब

बलरामपुर। (Chhattisgarh) धान खरीदी केन्द्र सेवा सहकारी समिति महावीरगंज में धान के रखरखाव तथा कर्मचारियों के लापरवाही को लेकर सूचना प्राप्त हुई थी। कलेक्टर श्याम धावड़े द्वारा मामले की गंभीरता को देखते हुए प्राप्त सूचना के आधार पर जांच के निर्देश देते हुए प्रतिवेदन प्रस्तुत करने को कहा गया था। खाद्य निरीक्षक, रामानुजगंज के द्वारा 21 मई 2021 को धान खरीदी केन्द्र, सेवा सहकारी समिति महावीरगंज में जांच की गई, जिसमें कम्प्यूटर ऑपरेटर श्री रमेश यादव एवं चौकीदार श्री विश्वनाथ सिंह द्वारा बताया गया कि दोपहर की चौकीदारी अजमत अली के द्वारा की जाती है। लेकिन 19 मई 2021 को वह समिति में चौकीदारी करने नहीं आया ,जिसके कारण फड़ में रखे हुए धान को नुकसान हुआ। उन्होंने बताया कि धान खरीदी प्रभारी श्री मंगेश प्रजापति भी समिति में बहुत कम आते हैं एवं उनके द्वारा कोई भी जिम्मेदारी नहीं निभाई जा रही है। जांच के दौरान उक्त समिति का भौतिक सत्यापन भी किया गया, जिसमें लगभग 25 हजार बोरी धान तथा वर्तमान में समिति में मानक बारदाना 584 नग पाया गया। उपलब्ध जानकारी तथा समिति में जांच के समय धान तथा मानक बारदाना की उपलब्धता में विसंगतियां पाई गई, जिससे स्पष्ट होता है श्री मंगेश प्रजापति के द्वारा अनियमितता बरती गई है। जिससे शासन को होने वाली क्षति हेतु वे स्वयं जिम्मेदार हैं। उक्त कृत्य कार्य के प्रति घोर लापरवाही को प्रदर्शित करता है, जो धान खरीदी नीति 2020-21 का स्पष्ट उल्लंघन है। अतः कलेक्टर श्री धावड़े ने धान खरीदी केन्द्र प्रभारी महावीरगंज श्री मंगेश प्रजापति को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। साथ ही नोटिस प्राप्ति के तीन दिवस के भीतर अपना जवाब स्वयं उपस्थित होकर प्रस्तुत करने को कहा है। समयावधि में उचित जवाब प्राप्त न होने अथवा संतोषप्रद नहीं होने पर आपके विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी, जिस हेतु स्वयं जिम्मेदार होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button