बालोद

Balod: तालाब की गंदगी और बदबू से शहरवासी परेशान, कब खुलेगी नगर पालिका की नींद?…

शिव जायसवाल@बालोद। (Balod) नगर के शिकारीपारा क्षेत्र के नगरवासी इन दिनों तालाब की गंदगी और उससे निकलने वाले बदबू से लोग परेशान हैं। मोहल्ले वालों का कहना है कि यहां मलेरिया तो आम बात हो गई है। नगर पालिका की नींद कब खुलेगी। जब हम किसी बड़ी महामारी से ग्रसित होकर मरने लगेंगे जिम्मेदार लोगों को मामले से अवगत कराने के बाद भी इस विषय पर किसी तरह की कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जिसके चलते काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। शिकारीपारा क्षेत्र के बस्ती के बीचों-बीच तो तालाब स्थापित हैं। जिसमें से एक तालाब निठारी है और एक तालाब निजी है। मगर यहां निस्तार तालाब की स्थिति बेहद दयनीय है।

काफी पुराना है मोहल्ला

(Balod) शहर के शिकारी पारा का मोहल्ला काफी पुराना है। यहां पर लगभग 5000 की संख्या में लोग निवास करते हैं। मगर शिकायत है कि नगर पालिका मोहल्ले वासियों से भेदभाव करता है.

मछलियां मरकर पानी में तैर रही

यहां पर तालाब में मछलियां मर कर पानी में तैर रही है और उसके बदबू से रहवासी परेशान हैं। जबकि लोग निठारी के लिए उस तालाब का उपयोग करते हैं। जब मोहल्ले वासियों से चर्चा की गई तो उन्होंने बताया कि खाना सोना रहना हराम हो जाता है। दिनभर शरीर में जलन रहती है और उल्टी दस्त की शिकायत तो आए दिन बनी रहती है। मोहल्ले वासियों का कहना है कि गंदगी और बदबू के कारण जैसे मलेरिया तो आम हो चुकी है।

पार्षद ने मिलकर सफाई करने की कही बात

(Balod) मोहल्ले वासियों ने बताया कि इस संदर्भ में जब नगरपालिका के उपाध्यक्ष से चर्चा की गई। तब उन्होंने वार्ड के पार्षद को बताने की बात कही। जब इस बात की चर्चा वार्ड पार्षद से की गई उनके द्वारा उल्टा नगरवासियों को कहा गया कि चलो मिलकर सफाई करते हैं,

किसी ने फिर बड़े स्तर पर क्षेत्र और तालाब की साफ सफाई के लिए ध्यान नहीं दिया.मोहल्ले वासी नगर पालिका से खासा नाराज हैं और आने वाले दिनों में आंदोलन की चेतावनी भी दे रहे हैं. शहरवासी का कहना है कि नगर पालिका द्वारा क्षेत्र में साफ सफाई के मामले में खानापूर्ति की जाती है।

अधिकारी ने कही ये बात

फिलहाल मामले में मुख्य नगरपालिका अधिकारी का कहना है कि बारिश के पहले एक बार तालाब की सफाई कराई गई थी। परंतु मुख्य नगरपालिका को यह नहीं पता कि उस तालाब की सफाई हुई थी। उन्होंने मीडिया के माध्यम से जानकारी मिलने के बाद यहां त्वरित रूप से कार्रवाई कराते हुए साफ सफाई कराने की बात कही।

फैल चुकी है कई खतरनाक बिमारियां

दरअसल बारिश के बाद से जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में डायरिया मलेरिया जैसी बीमारियां फैलने की चर्चाएं त्वरित रूप से कार्रवाई कराते हुए साफ सफाई कराने की बात कही दरअसल बारिश के बाद से जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में डायरिया मलेरिया जैसी बीमारियां फैल रही है जिसके चलते अब शिकारीपाड़ा के मोहल्ले वासी भी खासे नाराज हैं कि कहीं साफ सफाई के अभाव में उनके क्षेत्र में कोई महामारी अपना पैर ना पसार ले।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button