Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
छत्तीसगढ़

21 लाख लीटर पानी बहाने वाला फूड इंस्पेक्टर निलंबित, कारण बताओ नोटिस जारी, पंप लगाकर 4 दिनों तक खाली करवाया डैम

कमलेश हिरा@पखांजूर। पखांजूर के परलकोट जलाश्य में फोन निकालने के लिए चलाया गया चार दिनों का आपरेशन क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। 21 लाख लीटर पानी बहाने वाले फूड इंस्पेक्टर को कलेक्टर प्रियंका शुक्ला ने निलंबित कर दिया है। जल संसाधन विभाग के एसडीओ को कारण बताओ नोटिस जारी कर 24 घंटे में जवाब मांगा गया है।

जानिए क्या है पूरा मामला

रविवार को पखांजूर निवासी और वतर्मान में पखांजूर में ही खाद्य निरिक्षक पद में पदस्थ राजेश विश्वास अपने दोस्तों के साथ परलकोट जलाश्य में पाटीर्  मनाने गऐ थे इसी दौरान परलकोट जलाश्य के स्कैलवाय के पास उनका 1.54 लाख का मंहगा सेल फोन सैमसंग एस24 अल्ट्ा पानी में गिर गया। जिसके बाद वे परेशान हो गऐ और सोमवार की सुबह ही परलकोट जलाश्य पहुंच गए। इस दौरान वे आस पास के उचित मूल्य के दुकानदारों को भी लगा दिया और गांव में रहने वाले गोताखोरो को बुला पहले पानी में फोन खोजने का अभियान शुरू हुआ। पर कई घंटो के प्रयास के बाद जब बात नहीं बनी तो काफी अधिक पानी होने के कारण आ रही परेशानी को देखते हुए उस स्थान से पानी निकालने का निणर्य लिया गया। जिस स्थान पर फोन गिरा था उस स्थान से परलकोट जलाश्य का अतरिक्त पानी निकालने के लिए स्कैल वाय बनाया गया है और वह हिस्सा उसके नीचे का हिस्सा था जहां  गमीर् के दौरान भी उस स्थान पर 10 फिट से अधिक पानी रहता है।

पखांजूर में पदस्थ खाद्य निरिक्षक स्थानीय है पर अपने कारनामों के कारण हमेशा ही विवादों और चर्चा में रहते है। खुद के राशन कार्ड के चावल में गड़बड़ी के मामले में वे एक बार सस्पेंड भी हो चुके है। अब अपने मंहगे फोन के लिए चार दिन का आपरेशन चला फिर चचार् में आ गऐ है। जिस दौरान खाद्य निरीक्षक द्वारा यह आपरेशन चल रहा था उस दौरान भी स्कैल वाय से लगातार चार दिनों तक पानी निकालने को ले विवाद हो गया शिकायत के बाद जल संसाधन विभाग के एसडीओ मौके में पहुंचे और पीनी निकालने का काम बंद कराया।

Related Articles

Back to top button