धमतरी

Dhamtari: धड़ल्ले से चल रहा जुआ सट्‌टा का कारोबार, माफियाओं के हौसले बुलंद, आखिर कहां है पुलिस?

संदेश गुप्ता@धमतरी। (Dhamtari) मगरलोड क्षेत्र में इन दिनों जुआ सट्टा का अवैध कारोबार धड़ल्ले से जारी है। इन पर नकेल कसने मगरलोड पुलिस नाकाम साबित हो रही है। मगरलोड पुलिस कार्रवाई के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति कर रही है। क्षेत्र में जुआ-सट्टा संचालित करने वालें माफियाओं के हौसले इतने बुलंद हैं कि पुलिस का उन्हें तनीक भी खौफ नहीं है। (Dhamtari) क्षेत्र के भोथीडीह समेत बोडरा, गाड़ाडीह ठेकला, नवागांव गांवों के ज्यादातर खेतो में यह अवैध काम संचालित किया जा रहा है। सूत्रों के (Dhamtari) मुताबिक रोज जगह बदल बदलकर लगभग 5 लाख का कारोबार होता है।

National: यूके से वापस लौटी महिला में कोरोना का नया स्ट्रेन, दिल्ली से छिपकर ट्रेन के जरिए पहुंची थी आंध्रप्रदेश, ऐसे जुटाई गई जानकारी

वहीं दूसरी ओर थाना मुख्यालय मगरलोड में पुलिस के नाक के नीचे चौक-चौराहों और ढाबा पानठेलो में खुलेआम सट्टा-पट्टी का धंधा चलाया जा रहा है। थाना मुख्यालय होने के बावजूद इन पर कोई कार्रवाई नहीं होना, पुलिस की मिलीभगत की ओर इशारा करता है। इसके अलावा इस अवैध कारोबार से जुड़े लोगों को सत्ता का भी समर्थन मिला हुआ है।

वहीं कभी-कभार पुलिस दो-चार छोटे एजेंटों को पकड़ कर अपने कर्तव्यों की इतिश्री कर लेती है, जबकि हकीकत यह है कि सटोरियों और जुआरियों के कारनामों को जानने के बाद भी पुलिस के स्थानीय और आला अधिकारी चुप्पी साधे बैठे हैं। यही वजह है कि यह कारोबार मगरलोड के आसपास के क्षेत्र में फल-फूल रहा है और क्षेत्र में सट्टा खाईवालों की फौज खड़ी हो गई है।

इस अवैध कारोबार से जुड़े सूत्रों के मुताबिक स्थानीय लोग ही नहीं बल्की दूर-दूर से भी लोग आते हैं। और लाखों के सट्टा और जुआ में दांव लगाते हैं। सूत्रों के मुताबिक राजिम, नयापारा के लोग सट्टा और जुआ खेलने पहुँचते हैं। आसपास के लोग फ़ोन के माध्यम से भी इन माफियाओं से सम्पर्क कर सट्टा पट्टी में नाम लिखने को भी कहते है।

क्षेत्र में चल रहे इस कारोबार के जद में बेरोजगारों और नाबालिग बच्चे भी आ रहे हैं। इस अवैध कारोबार में इन सबकी संलिप्तता चिंताजनक है।कोई कार्रवाई नहीं होने के कारण बेरोजगारों और नाबालिग बच्चों के स्तर में इजाफा हो रहा है।

क्षेत्र में चल रहे जुआ सट्टा के विषय मे मगरलोड थाना प्रभारी विनोद कतलम से बात करना चाहते है तो वो इस मामले में फ़ोन ही नहीं उठा रहे…अब देखना होगा की बड़े अधिकारी इसमें क्या एक्शन लेते है…

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button