बिलासपुर

Conservation of bears: इस परियोजना पर करोड़ो रुपए हुए खर्च, मगर वनमंडल नहीं कर पा रहा भालुओं का संरक्षण..गांवों में दहशत का माहौल

बिपत सारथी@गौरेला-पेंड्रा-मरवाही। (Conservation of bears) मरवाही वन मंडल में जामवंत परियोजना को अस्तित्व में लाने के लिए सालों से प्रयास किया जा रहा है। इसके बाद भी भालूओं को जंगल के अंदर रोकने में वन विभाग असफल है। अंडी गांव में रात करीब 8  बजे दो भालु घुस गए।(Conservation of bears) जिसकी सूचना गांव वाले ने 112 को दी। 112 की मदद से भालूओं  को खदेड़ा गया।

Corona: दाऊद के भतीजे की मौत, कराची के अस्पताल में ली अंतिम सांस, कोरोना से था संक्रमित

भोजन की तलाश में गांव की ओर भालू

(Conservation of bears)आपको बता दें कि मरवाही क्षेत्र में लगातार भालूओं की हमले से गाँव में दहशत का माहौल भी बना हुआ है। भोजन की तलाश में भालू जंगल को छोड़कर  गांव में घुस रहे हैं। कभी आमजन को नुकसान पहुंचाते हैं तो कभी खुद दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं।

कुछ दिन पहले सफेद भालू की कुएं में गिरकर हुई थी मौत

सरकार द्वारा  वन विभाग में लाखों करोड़ों रुपए की जामवंत परियोजना में खर्च करने के बाद भी वनमंडल भालुओं  का संरक्षण नहीं कर पा रहा है। कुछ दिन पहले ही यहां एक सफेद भालू की कुएं में गिरकर मौत हो गई थी। आए दिन शाम होते ही यहां भालू गांव में पहुंच जाते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button