Uncategorized

Ambikapur: सूरजपुर दौरे पर स्वास्थ्य मंत्री, इस कानून को लेकर आदिवासियों से की चर्चा, जानिए

शिव शंकर साहनी@अंबिकापुर। (Ambikapur) प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव आज दूसरे दिन भी सूरजपुर दौरे पर पहुंचे। लटोरी में आयोजित पेशा कानून पर परिचर्चा के बैठक कार्यक्रम में शामिल हुए। पेशा कानून को लेकर सर्व आदिवासी समाज बनाने को लेकर राय मशविरा के साथ परिचर्चा की।

(Ambikapur) जहां सूरजपुर, अंबिकापुर और बलरामपुर जिले के 19 ब्लॉक के सर्व आदिवासी समाज के लोग आज के परिचर्चा बैठक में शामिल हुए थे। (Ambikapur) जहां बैठक परिचर्चा में पेशा कानून के सभी बिंदुओं पर आदिवासी समाज प्रमुखों से राय मांगी गई। साथ ही सुझाव भी लिए।

Ambikapur: सूरजपुर दौरे पर स्वास्थ्य मंत्री, इस कानून को लेकर आदिवासियों से की चर्चा, जानिए

ऐसे में स्वास्थ्य मंत्री ने सभी आदिवासी समाज के लोगों से पेशा कानून को लेकर खुलकर बातें की। साथ ही कहा कि पेशा कानून लागू होने से पहले  प्रदेश के सभी पंचायतों और आदिवासी समाज प्रमुखों से राय मशविरा की जाएगी।

जहां मीडिया से चर्चा कर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि 19 ब्लॉक के आदिवासी समाज के लोगो से खुलकर विचार विमर्श किया गया है।

उसी के आधार पर पेसा एक्ट में कौन-कौन सी बातें प्रावधान के लायक हैं उसे सम्मिलित किया जाएगा । साथ ही पेशा कानून पर परिचर्चा से पंचायतों के विचार सामने आएंगे और इस पेशा कानून से ग्राम सभा सशक्त होना चाहिए ना की औपचारिकता।

गौरतलब है कि स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव पिछले 2 दिनों से सूरजपुर दौरे में पहुंच रहे हैं। ऐसे में आज पेशा कानून के परिचर्चा में सम्मिलित होकर लंबे अरसे बाद 4 घंटे तक 3 जिलों के 19 ब्लॉकों के आदिवासी समाज के साथ चर्चा किए। जहां पेशा कानून को लेकर तीनों जिलों के समाज के लोगो में एक विचार यह भी रहा कि पंचायतों में आदिवासी समाजों में शराब बनाने की 5 लीटर की छूट को पूरी तरह से बंद किया जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button