सूरजपुर

Video: कलेक्टर पुलिसकर्मियों को बोल रहे- मारो-मारो…इधर 13 साल का बच्चा बार-बार दिखा रहा पर्ची…..सोशल मीडिया पर वायरल करते हुए यूजर्स ने लिखा-ये सख्ती नहीं शक्ति प्रदर्शन है….

सूरजपुर। जिले से एक वीडियो (Video) सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। जिसमें कुछ पुलिस वाले एक युवक को मारते हुए दिख रहे हैं। बड़ी बात यह है कि इस दौरान कलेक्टर साहब भी मौके पर मौजूद है। जो कि पुलिसकर्मियों को युवक को पीटने के निर्देश दे रहे हैं। जैसे ही ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ लोगों ने काफी आलोचना की।

वीडियो में साफ दिख रहा है कि युवक मुंह पर मास्क लगाया हुआ। अपने हाथ में एक पर्ची पकड़ा हुआ है। जो कि पुलिस को दिखा रहा है। इसके बावजूद पुलिस सुनने के मूड में नहीं है। हालांकि युवक बार-बार कह रहा है कि वो जांच कराने के लिए गया हुआ था। मगर कलेक्टर पुलिसकर्मियों को कह रहे मारो-मारो….दरअसल एक ट्विटक यूजर ने वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर किया। जिसमें उसने लिखा कि एक 13 साल का बच्चा जो कि मेडिकल से आ रहा है। उसे डंडा मारना सख्ती नहीं बल्कि शक्ति प्रदर्शन हैं।

सोशल मीडिया पर आलोचनाओं के बाद कलेक्टर महाशय अपना बचाव करते हुए बचने का प्रयास  कर रहे हैं। कलेक्टर रणवीर शर्मा ने सारी गलती युवक पर थोप दी। एक वेबसाइट से बातचीत में उन्होंने बताया कि युवक अपने एक अन्य साथी के साथ तेजी से बाइक चलाते आ रहा था। इस दौरान वह पुलिस को कुचलने को कोशिश की। साथ ही बाइक जब्ती की भी बात कर रहे हैं।

डीजीपी ने वीडियो को रीट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा कि डंडा मारने से बचना चाहिए था। जबकि आईपीएस दीपाशुं काबरा ने सत्यता की जांच की बात कहीं।

अब सच क्या है, और झूठ क्या है। ये तो जांच के बाद ही पता चलेगा। लेकिन जिस कलेक्टर को समाज की सेवा और एक जिले का कार्यभार सत्यनिष्ठा और जिम्मेदारी के साथ संभालने को दी जाती है। ऐसे में इस तरह की घटनाएं कई सवाल खड़ी करती है।

Related Articles

3 Comments

  1. कानून के किस किताब में अधिकारियो को किसी की पर्सनल सम्पत्ति को नुकसान पहुचाने या बल प्रयोग का अधिकार है?आखिर कार्यवाही कब होगी अधिकारियो पर।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button