विशेष

UP: अब दवाओं के बाद लोग अंधविश्वास की ओर….21 दिनों तक ‘कोरोना माई’ को मनाने में जुटी महिलाएं, यूपी के वाराणसी से शुरुआत

वाराणसी। (UP) कोरोना का प्रकोप भारत में जिस तरह से बढ़ रहा है. वैसे ही कुछ आश्चर्यजनक तस्वीरें भी सामने आ रही है. भारत में किसी भी महामारी को दैवीय आपदा से जोड़कर भगवान को मनाने की रवायत भी है. वहीं धर्म की नगरी काशी के गंगा घाटों पर इस महामारी को आस्था से जोड़कर प्रार्थना भी की जा रही है. वहीं जहां महिलाएं इस खतरनाक वायरस को ‘कोरोना माई’ मानकर पूजा में जुट गईं हैं.

इसी वजह से इन दिनों काशी के गंगा घाट किनारे महिलाएं दर्जनों की संख्या में जुटी हैं. उन्होंने कोरोना को देवी की संज्ञा देकर उन को प्रसन्न करने करने के लिए 21 दिनों तक पूजन का बीड़ा उठाया है

जैन घाट पर इकट्‌ठा हुई दर्जनों महिलाएं

वाराणसी के जैन घाट पर इलाके की दर्जनों महिलाएं सुबह शाम इकट्ठा हो जाया करती हैं और वहां काफी देर तक दीपक फूल माला के साथ मां को मनाने के लिए प्रार्थना करती रहती हैं. इन श्रद्धालु महिलाओं का अटूट विश्वास है कि ऐसा करने से उनके परिवार और बाल-बच्चे इस बीमारी से दूर रहेंगे. 

बीमारी से जरूर मिलेगी मुक्ति

एक श्रद्धालु किरण का कहना है कि हम यह पूजा कर रहे हैं ताकि इस महामारी से बचा जा सके. हमें यकीन है कि जल्द ही इस बीमारी से सभी को मुक्ति भी मिलेगी. हम सब लगातार 21 दिनों तक कोरोना माई की पूजा करेंगे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button