जांजगीर-चांपा

Ruckus: हद है, मचा बवाल, दौ़ड़कर बचाई जान, जीवन रक्षक पर पत्थरों की बौछार? देखिए ये वीडियो

हुमेश जायसवाल@जांजगीर-चांपा। (Ruckus) जिले में सोमवारी की शाम कोरोना संक्रमित मरीजों को लेने गए स्वास्थ्यकर्मियों और पुलिसवालों पर महिलाओं ने हमला कर दिया।

महिलाओं ने टीम पर लाठी डंडे और पत्थर बरसाए। जिसके बाद स्वास्थ्यकर्मी और पुलिस वहां से भाग खड़े हुए हैं। बताया जा रहा है कि महिलाएं संक्रमित मरीजों को गांव से ले जाने का विरोध कर रही थी।

(Ruckus) जानकारी के मुताबिक सेमरिया गांव में 33 ग्रामीणों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। जिन्हें लेने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव पहुंची थी। वहां उन्होंने बड़ी संख्या में मरीजों के परिजन के साथ ग्रामीणों की सैंपलिंग शुरू की और मरीजों को ले जाने लगे।

मरीजों को नहीं भेजने पर अड़ गईं महिलाएं

इतनी बड़ी संख्या में लोगों को गांव से कोविड-19 अस्पताल ले जाने पर महिलाएं भड़क गईं और उन्होंने विरोध शुरू कर दिया। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची तो महिलाओं ने आपा खो दिया। उन्होंने लाठी-डंडे लेकर टीम और पुलिसकर्मियों को दौड़ा लिया। फिर भाग रहे अमले पर पत्थर फेंके। महिलाओं का कहना था कि मरीजों को नहीं ले जाने देंगे।

Dhamtari: क्या ऐसे में नहीं है कोरोना संक्रमण का खतरा?..खुद के बनाए नियमों को फॉलो नहीं कर रहे कलेक्टर….
पुलिसबल के साथ पहुंचे तहसीलदार

(Ruckus)इसके बाद रात को पुलिसबल के साथ तहसीलदार भी पहुंचे। उन्होंने ग्रामीणों को समझाया। वहीं, महिलाओं का कहना था कि मरीजों के उपचार की व्यवस्था गांव में ही की जाए। इतने सारे लोगों को एक साथ गांव से नहीं ले जाने देंगे। हालांकि, काफी समझाने के बाद महिलाएं मान गईं।

 

 

 

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button