बिज़नेस (Business)

RBI: लोगों की उम्मीदों पर फिरा पानी! जनता को फिर झटका,आरबीआई ने लिया बड़ा फैसला

नई दिल्ली। (RBI)आज एक बार फिर से मिडिल क्लास लोगों को मायूसी हाथ लगी है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI)  की तरफ से इस बार भी ब्याज दरों में बदलाव नहीं किया गया है। आरबीआई ने नई क्रेडिट पॉलिसी की समीक्षा का ऐलान किया है। (RBI) इसका ऐलान आरबीआई गर्वनर शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया।

LPG से भरी टैंकर और ट्रक में भिड़ंत, रिंगरोड 3 पर लगा लंबा जाम, फायर ब्रिगेड और पुलिस की टीम मौजूद

रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं

आरबीआई ने रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया है। यह चार फीसदी पर बरकरार है। यानी ग्राहकों को ईएमआई या लोन की ब्याज दरों पर नई राहत नहीं मिली है।

रिवर्स रेपो रेट भी 3.35 फीसदी पर स्थिर

बैंक रेट में भी कोई बदलाव नहीं, 4.25 फीसदी बरकरार

Video: नियम कानून को ताक पर रखकर रेत का अवैध परिवहन जारी, जिम्मेदार अधिकारी बैठे मौन, देखिए

मार्जिनल स्टैंडिंग फसिलिटी (MSF) रेट भी 4.25 फीसदी पर

बैंक ने वित्त वर्ष 2021-22 में देश की जीडीपी में 10.5 फीसदी की तेजी का लगाया अनुमान

वित्त वर्ष 2020-21 की चौथी तिमाही में महंगाई दर रह सकती है 5.2 फीसदी

बैंक ने अर्थव्यवस्था में रिकवरी के दिए संकेत

दूसरी तिमाही में मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र में कैपिसिटी यूटिलाइजेशन सुधार के साथ 63.3 फीसदी पर रही

पिछले कुछ महीनों में एफडीआई और एफपीआई निवेश में हुई बढ़ोतरी

टीएलटीआरओ के जरिए बैंकों से एनबीएफसी के लिए फंड होगा उपलब्ध

खुदरा डायरेक्ट प्लेटफॉर्म होगा लॉन्च, खुदरा निवेशकों को G-Sec बाजार में मिलेगा सीधा एक्सेस

आरबीआई डिजिटल पेमेंट सिस्टम के आउटसोर्सिंग के लिए दिशानिर्देश जारी करेगा

आपको बता दें कि एक्सपर्ट्स पहले ही ये अनुमान लगा रहे थे कि केंद्रीय बैंक द्वारा ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं होने का मतलब है कि रेपो रेट अभी भी 4 फीसदी और रिवर्स रेपो रेट 3.35 फीसदी पर ही रहेगी। फिलहाल बैंक का लक्ष्य राजकोषीय घाटे को कम करने का है। वहीं, ब्याज दरों में पहले ही काफी कमी किए जाने के चलते भी इस बार रेट के कम होने की उम्मीद कम थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button