रायपुर

Raipur: लोकतांत्रिक तरीके से ज्ञापन देने पहुंचे पूर्व सभापति प्रफुल्ल विश्वकर्मा, महापौर ने पुलिस बुलवाकर गिरफ्तार करवाया, अब बीजेपी ने लगाया ये आरोप

रायपुर। (Raipur) आज  तूहर सरकार तूहरद्वार कार्यक्रम में तात्यापारा वार्ड की विभिन्न समस्याओं को लेकर महापौर जी को ज्ञापन देने का कार्यक्रम था वार्ड की सैकड़ों जनता एवं भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ तात्यापारा वार्ड के पूर्व पार्षद एवं नगर निगम के पूर्व सभापति प्रफुल्ल विश्वकर्मा जी ज्ञापन देने शिविर में पहुंचे थे ।

Mahasamund: NH 53 पर 3 आरोपी गिरफ्तार, आगरा से उड़ीसा बेचने गए थे चांदी, महासमुंद पुलिस की बड़ी कार्रवाई, 36 किलो से अधिक चांदी जब्त

(Raipur) परंतु जैसे ही महापौर एजाज ढेबर शिविर में पहुंचे तो उनके साथ आए बाउंसर जैसे कार्यकर्ताओं ने बदसलूकी करना चालू कर दिए।  महिलाओं के साथ बदतमीजी की एवं धक्का-मुक्की की जिसके कारण कुछ देर के लिए विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई परंतु प्रफुल्ल विश्वकर्मा जी ने स्थिति को संभालते हुए शिविर में ही अपने ज्ञापन देने की मांग को लेकर जमीन पर बैठ गए। (Raipur) लेकिन महापौर जी अपने भाषण देने में मस्त रहे और  कुछ देर नारेबाजी करने के बाद जब महापौर जी ज्ञापन लेने नहीं आए तो पुलिस प्रशासन ने बलपूर्वक एवं बदतमीजी के साथ ऐसा लग रहा था कि पुलिस कांग्रेस का बिल्ला लगाकर काम कर रही है भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को एवं पूर्व सभापति प्रफुल्ल विश्वकर्मा को जबरदस्ती उठाकर थाने ले आई। 

Chhattisgarh: ‘मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग’….कोरबा हत्याकांड मामले में पूरे प्रदेश में प्रदर्शन करेंगी बीजेपी, प्रदेश अध्यक्ष ने कही ये बात

जहां पर भारतीय जनता पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ता जिलाध्यक्ष  श्रीचंद सुंदरानी जी के नेतृत्व में आजाद चौक थाने में धरने पर बैठ गए। भाजपा कार्यकर्ताओं के दबाव में कार्यपालक मजिस्ट्रेट ने थाना धरना स्थल पर ही आकर प्रफुल्ल विश्वकर्मा जी से ज्ञापन लिया । कार्यपालक मजिस्ट्रेट ने भरोसा दिलाया कि वह इस ज्ञापन को कलेक्टर के माध्यम से कमिश्नर तक पहुंचाएंगे एवं जो भी मांगे इस ज्ञापन के माध्यम से की गई है उसे जल्द से जल्द निराकरण किया जाएगा।

Video: चंदूलाल चंद्राकर मे़डिकल कॉलेज को अधिग्रहित किए जाने के निर्णय का कांग्रेस ने किया स्वागत, कही ये बात

 भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी ने कहा कि विपक्ष के लोकतांत्रिक तरीके से विरोध करने के हकों को कांग्रेस सरकार नहीं छीन सकती है और भाजपा कार्यकर्ता कांग्रेस सरकार के इन दमनकारी रवैया से डरने वाले नहीं जनता के हित में जब जब और जहां जहां जरूरत पड़ेगी भाजपा के पदाधिकारी और कार्यकर्ता अपना विरोध प्रकट करेंगे चाहे इसके लिए कोई भी कीमत चुकानी पड़े।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button