विशेष

Corona के नए स्ट्रेन से घबराने की जरूरत नहीं, एम्स निदेशक ने कही ये बात

नई दिल्ली। (Corona) कोरोना के नए स्ट्रेन ने जहां पूरे देश की सरकार को डरा दिया है। सरकार ने सर्तकता के तौर पर ब्रिटने जाने वाली सारी फ्लाइट को कैंसिल कर दिया है। जबकि ब्रिटेन से भारत में आने वाले लोगों को एयरपोर्ट में कोरोना टेस्ट किया जा रहा है। और उन्हें होम क्वारंटाइन किया जा रहा है। (Corona) इसी बीच एम्स के निदेशक सदस्य डॉक्टर रणदीप  गुलेरिया ने कहा कि कोरोना के नए स्ट्रेन से ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है। (Corona) कोरोना वायरस पहले भी कई दफा म्यूटेट हो चुका है। पिछले दस महीनों में कई म्यूटेशन हो चुके हैं, जो कि सामान्य बात है।

जरूरत पड़ी तो कंपनियां तैयार कर लेगी वैक्सीन

उन्होंने आगे कहा कि अगर जरूरत पड़ेगी तो टीका बनाने वाली कंपनियां इसके लिए वैक्सीन तैयार कर लेंगी। उन्होंने आगे कहा कि मौजूदा समय में मुझे नहीं लगता कि वायरस में कोई बड़ा बदलाव होगा, इसलिए वैक्सीन में भी बदलाव करने की जरूरत नहीं है।

Chhattisgarh: पूर्व मुख्यमंत्री का भूपेश सरकार पर आरोप, कहा- मुक्ति पाना है तो कार्यकर्ताओं को लड़ना होगा

एक महीने में दो बार कोरोना वायरस म्यूटेट होता है

एक अनुमान के तौर पर एक महीने में दो बार वायरस म्यूटेट होता है। इसलिए नए स्ट्रेन के लिए अनावश्यक चिंता करने की जरूरत नहीं है।

डॉ. गुलेरिया ने बताया कि अगले साल के मध्य तक देश में छह से सात वैक्सीन बाजार में उपलब्ध हो जाएंगी। फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कोरोना की वैक्सीन मुफ्त होगी और उसका खर्च केंद्र सरकार उठाएगी।

कोरोना वैक्सीन नए स्ट्रेन पर भी प्रभावी

उन्होंने बताया कि म्यूटेशन से लक्षण और इलाज की रणनीति में किसी तरह का कोई परिवर्तन नहीं आया है। मौजूदा आंकड़ों के मुताबिक, जो वैक्सीन अभी इमरजेंसी अप्रूवल के लिए इस्तेमाल की जा रही हैं, वो यूके के नए स्ट्रेन पर भी असरदार होंगी।

6 से 8 हफ्ते कोरोना से लड़ाई में काफी अहम

डॉ. गुलेरिया के मुताबिक अगले छह से आठ हफ्ते कोरोना वायरस से लड़ने के लिए काफी अहम हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि अब देश में कोरोना के मामलों और मरने वालों की संख्या में कमी देखी जा रही है।

उन्होंने ये भी कहा कि नया स्ट्रेन भले ही पहले वाले से ज्यादा खतरनाक हो, लेकिन इसके लिए अस्पताल में ज्यादा संख्या में भर्तियों की जरूरत नहीं है और ना ही इस स्ट्रेन से ज्यादा मरीजों की डेथ होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button