देश - विदेश

JEE-NEET 2020: परीक्षा केंद्रों की लिस्ट जारी, इस बार परीक्षा में बदल गई ये चीजें

नई दिल्ली। (JEE-NEET 2020) कोरोना संकट के बीच जेईई मेन्, और नीट यूजी की परीक्षाओं को लगातार स्थगित करने की मांग चल रही है। इसके लिए छात्र, विपक्षी पार्टी के नेताओं ने प्रधानमंत्री मोदी स्थगित करने की मांग कर रहे हैं.

सुरक्षित तरीके से परीक्षा कराने के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने कई चरणों में प्लॉनिग की है.

(JEE-NEET 2020) जिसमें परीक्षा केंद्रों की संख्या बढ़ाना, दूर बैठने की योजना, प्रति कमरे कम उम्मीदवार, कैसे होगा छात्रों का प्रवेश और कैसे छात्र जाएंगे बाहर सब शामिल हैं. इन कदमों को COVID-19 महामारी के मद्देनजर केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा जाएगा.

शिक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि तय कार्यक्रम के अनुसार परीक्षा आयोजित की जाएगी. संयुक्त प्रवेश परीक्षा (मुख्य) 1-6 सितंबर को निर्धारित है, 13 सितंबर को राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET-UG) की परीक्षा होगी.

परीक्षा केंद्रों की संख्या तय

JEE मेन के लिए परीक्षा केंद्रों की संख्या 570 से 660 तक बढ़ा दी गई है. वहीं नीट के लिए 2,546 से 3843 तक बढ़ा दी गई है. बता दें, JEE main कंप्यूटर आधारित परीक्षा है, NEET एक पेन-पेपर टेस्ट है.

(JEE-NEET 2020) परीक्षा केंद्रों की संख्या भी 570 से 660 (JEE के मामले में) और 2564 से 3843 (NEET के मामले में) बढ़ा दी गई है. इसके अतिरिक्त, JEE के लिए शिफ्ट की संख्या पहले 8 से बढ़ाकर 12 कर दी गई है और प्रति शिफ्ट के उम्मीदवारों की संख्या पहले के 1.32 लाख से घटाकर 85000 कर दी गई है.

Sushant Case: रिया और श्रुति मोदी की चैट की सच्चाई?.कौन सा वादा सुशांत ने किया था रिया से?…पढ़िए
प्रोटोकॉल से जुड़ी बातें

 

1-  मास्क  पहनना जरूरी होगा

 

2- हाथों में पहनने होंगे दस्ताने

 

3-  पारदर्शी पानी की बोतल

 

4- 50 ml का हेंड सैनिटाइजर

 

5-  परीक्षा से संबंधित डॉक्यूमेंट्स (जैसे- एडमिट कार्ड, ID कार्ट और अन्य जरूरी डॉक्यूमेंट्स)

 

6- नकल रोकने के लिए मेटल डिटेक्टर से छात्रों की जांच होगी

 

  1. किसी भी प्रकार की धातु आदि से बने प्रोडेक्ट को अपने साथ न लाएं

 

8- मेटल डिटेक्टर दूर से जांच करेगा, इस दौरान छात्र के सीधे संपर्क में कोई नहीं होगा

 

9- शौचायल जाने से पहले उन्हें अनुमति लेनी जरूरी होगी.

 

कैसे होगा डॉक्यूमेंट्स वेरिफिकेशन

परीक्षा हॉल में करीब 3 फुट चौड़ी टेबल उपलब्ध कराई जाएगी. परीक्षक बिना किसी को छुए उम्मीदवारों के डॉक्यूमेंट्स चेक करेंगे. सिग्नेचर के साथ मैनुअल अटेंडेंस (हाथो में दस्ताने पहनकर) ली जाएगी. इस साल अंगूठे का निशान नहीं लिया जाएगा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button