कोरिया

korea news: कोयलांचल पर किसकी नजर? अवैध वसूली बना कमाई का ज़रिया, बेरोज़गार युवा भी इस काली कमाई में हुए शामिल

संजय गुप्ता@कोरिया. (korea news) चिरमिरी क्षेत्र पूर्ण रूप से कोयले की नगरी कहा जाने वाला खूबसूरत प्रकृति से भरपूर कोयलांचल प्रदेश है.

जहां अवैध वसूली की शिकायत अब बार-बार सामने आ रही है.

(korea news)पूर्व महापौर ने इस संबंध में आईजी सरगुजा रतनलाल डांगी को भी पत्राचार किया गया है।

बरतुंगा लोडिंग पॉइंट पर हो रहे अवैध वसूली के मामले पर पूर्व विधायक श्याम बिहारी जायसवाल ने कहा कि अवैध

(korea news)वसूली के रूप में 55 रुपये प्रति टन कोयला फिक्स किया गया है.

जो कि स्थानीय जनप्रतिनिधि से लेकर उच्च अधिकारियों सहित SECL के अधिकारियों तक जाता है.

यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि चिरमिरी में रोजगार की स्थिति दंयनीय है.

फिर भी यहां ऐसा अवैध वसूली किया जा रहा है.

इस संबंध में कोयला मंत्री से भी भाजपा मंडल बात करेगी.

उसके बाद भी यह नही रुका तो हम सड़कों पर उतरेंगे।

पूर्व महापौर डोमरु रेड्डी ने कहा कि आजकल सफेद पोश नेताओं सहित पुलिस के अधिकारियों तथा एसईसीएल के

अधिकारियों के द्वारा एक नया अवैध कार्य किया जा रहा है.

 ‌Bijapur news: नहीं थम रहा नक्सलियों का उत्पात, अब स्टेट हाईवे को नक्सलियों ने बनाया निशाना, मौके पर पहुंचे जवान

उन्होंने बताया कि चिरमिरी क्षेत्र में कोयले के अवैध कार्य में चिरमिरी के युवा बेरोजगार भी संलिप्त होते जा रहे हैं.

इस संबंध में मेरे द्वारा सरगुजा आईडी को पत्र लिखकर अवगत कराया गया है.

एसईसीएल चिरमिरी के पर तुंगा लोडिंग पॉइंट पर अवैध वसूली का कार्य संगठित तरीके से बिना रोक-टोक के किया जा रहा है.

जिसके कारण स्थानीय पुलिस एवं संपूर्ण पुलिस प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल उठना लाजमी है।

Corona: पूर्व मुख्यमंत्री की पत्नी कोरोना पॉजिटिव, अस्पताल में हुई भर्ती, पूरा परिवार हुआ आइसोलेट

रेड्डी ने  चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि यदि इस पर पुलिस प्रशासन के द्वारा जल्द ही लगाम नहीं लगाई गई.

तो जिस प्रकार आज से 20-22 वर्ष पूर्व चिरमिरी में मारपीट एवं मर्डर जैसे कृत्य होते थे.

अब कोयले की अवैध होड़ में चिरमिरी के बेरोजगार युवा वैसा ही फिर से असामाजिक गतिविधियों में पड़ कर रंजीश के शिकार बन अराजकता न फैलाएं।

 

 

 

Related Articles

3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button