सरगुजा-अंबिकापुर

Ambikapur: रन-वे की लंबाई बढ़ाये बिना ही उतर सकेगा 72 सीटर विमान, पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव का निरीक्षण

शिव शंकर साहनी@अंबिकापुर। (Ambikapur) छत्तीसगढ़ शांसन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री  टी.एस. सिंहदेव ने आज दरिमा एयरपोर्ट का निरीक्षण कर 72 सीटर विमान परिचालन  हेतु आवश्यक तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने अधिकारियों को निर्माण कार्य अगले 4 माह तक पूरा करने के निर्देश दिए। इस दौरान उनके साथ स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम भी थे।  सिंहदेव ने कहा कि जगदलपुर और बिलासपुर के रन-वे की लंबाई दरिमा से छोटी है तथा जगदलपुर से विमान सेवा प्रराम्भ भी ही गई है। ऐसे में दरिमा के रन-वे की लंबाई बढ़ाने में समय व्यर्थ करने की जरूरत नही है। डी.जी.सी.ए. के ऑब्जर्वेशन के अनुसार  रन-वे सुदृढ़ीकरण के तहत मोटाई बढ़ाने और समतलीकरण करने की आवश्यकता है।

     (Ambikapur) मंत्री  सिंहदेव ने दरिमा एयरपोर्ट के टर्मिनल भवन में लोक निर्माण विभाग तथा राजस्व विभाग के अधिकारियों से एयर पोर्ट विस्तारीकरण के संबंध में विस्तार से जानकारी ली। इसके पश्चात उन्होंने रन-वे का भी निरीक्षण किया।  सिंहदेव ने कहा कि भविष्य की आवश्यकताओं को देखते हुए यदि जमीन अधिग्रहण करना पड़े तो लोगों के घर न टूटे उस बात का ध्यान रखें। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि डी.जी.सी.ए. के निर्देश के मुताबिक एयरपोर्ट के काम शुरू करने जल्द कंसल्टेंट नियुक्ति की कार्यवाही करें तथा डी.पी.आर. रायपुर भेजें। उन्होंने कहा कि डी.जी.सी.ए. ने दरिमा एयरपोर्ट को 72 सीटर विमान परिचालन की मान्यता न देने में अब तक तीन कमियाँ बताई गई है। पहला रन-वे के सुदृढ़ीकरण एवं समतलीकरण की आवश्यकता है। इसके लिए वर्तमान रन-वे की मोटाई 40 से 60 सेंटीमीटर मोटे डामरीकरण के साथ समतलीकरण करना होगा। दूसरा वर्तमान एप्रन (जहाज ठहराव का स्थान) छोटा है इसे बढ़ाने की आवश्यकता है तथा तीसरा रन-वे के दोनों ओर करीब 70 मीटर पक्के नाली का निर्माण हो ताकि बारिश का पानी का शीघ्रता से निकासी हो। उन्होंने कहा कि यात्रियों की संख्या के अनुसार टर्मिनल बिल्डिंग के विस्तार हेतु नए भवन का निर्माण करें।

     Dhamtari: लाखों का जेवर ले उड़े अज्ञात चोर, अब पुलिस….पढ़िए पूरी खबर अज्ञात चोर, अब पुलिस….पढ़िए पूरी खबर

(Ambikapur)  सिंहदेव ने इस दौरान कहा कि डी.जी.सी.ए. द्वारा एयरपोर्ट को मान्यता देने में जो-जो कमियां हैं उन बिंदुओं को एक साथ बता दिया जाए तो उन कमियों के निराकरण भी एक साथ हो सकता है लेकिन अब तक कुछ कमी बताकर फिर दूसरा कमी बता दिया जाता है जिससे एयरपोर्ट के मान्यता में विलंब हो रहा है। उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट के मान्यता में कमी के लिए अब तक केवल तीन कमियां ही बताई गई है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में डी.जी.सी.ए. के अधिकारियों से बात की जाएगी।

Related Articles

4 Comments

  1. 351694 368103Spot up for this write-up, I actually feel this exceptional internet site requirements a whole lot a lot more consideration. Ill far more likely be once once again to read considerably far more, thank you that information. 480673

  2. 880259 292037Amaze! Thank you! I constantly wished to produce in my internet website a thing like that. Can I take element of the publish to my blog? 277656

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button