जांजगीर-चांपा

Janjgir-Champa: विधायक हो तो ऐसा …देर रात नाव से सफर कर जनता का हाल जानने पहुंचे दर्जनों गांव…

हुमेश जायसवाल@चंद्रपुर। (Janjgir-Champa) बहुत कम ऐसे जनप्रतिनिधि होते हैं  जो चुनाव के बाद अपने जनता के पास जाते हैं उनके दुख सुख में शरीक होते हैं. लेकिन आज हम आपको ऐसे विधायक के बारे में बताने जा रहे हैं जिनके कार्यशैली की तारीफ की जाए वह कम है हम किसी विधायक का प्रमोशन नहीं बल्कि उनके अच्छे काम को प्रमोट कर रहे हैं ताकि अन्य जनप्रतिनिधि भी उनके जैसा कार्य कर सकें –

(Janjgir-Champa)चुनावी दौरा में जनप्रतिनिधि लोकलुभावन वादे करते हैं चुनाव जीतने के बाद वह अपने क्षेत्र की जनता को भी भूल जाते हैं ऐसा आपने अक्सर सुना होगा . लेकिन आज हम आपको चंद्रपुर विधायक राम कुमार यादव के बारे में बताएंगे जो चुनाव जीतने के बाद विधायक बने विधायक के बाद सरकार ने उन्हें उपाध्यक्ष ग्रामीण विकास एवं पिछड़ा वर्ग विकास प्राधिकरण या नहीं राज्यमंत्री का दर्जा दिया लेकिन पद में रहने के बावजूद भी कभी उन्होंने अपने आप को विधायक के तौर पर क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के सामने पेश नहीं किया बल्कि क्षेत्र का बड़ा बेटा होने की जिम्मेदारी निभाई हम इसलिए कह रहे हैं

(Janjgir-Champa)क्योंकि रामकुमार यादव अक्सर अपने क्षेत्र की जनता की समस्या में उनका हौसला अफजाई के लिए वह पहुंच जाते हैं भारी बारिश के चलते महानदी रौद्र रूप ले लिया महानदी के तट क्षेत्र में जलभराव की वजह से कई गांव डूब गए फसल बर्बाद हो गए .

इस दौरान रामकुमार यादव विधानसभा के चलते हो रायपुर में थे तबीयत खराब होने के बावजूद भी वह रायपुर से क्षेत्र की समस्या को देखते हुए आनन-फानन में कई समस्या को पार करके अपने क्षेत्र में पहुंचे और देर रात तक जान जोखिम में डालकर नाव के सहारे वे अपने क्षेत्र की जनता से मिलने पहुंचे उनका दुख सुख हालचाल जाना साथ ही साथ उन्होंने उनका हौसला अफजाई किया और कहा कि वह क्षेत्र के बड़े बेटे हैं और वह क्षेत्रवासियों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होने देंगे इसके लिए वह वचनबद्ध है ग्रामीण भी अपने जननायक को देखकर  तकलीफों को भूलकर अपना हालचाल बताया. वही राम कुमार यादव ने ग्राम साराडीह में लगातार गांव में बाढ़ आने की वजह से उन्हें एक स्ट्रीमर यानी बड़ा नाव देने का फैसला .

रायपुर से आने के बाद तुरंत क्षेत्र के दौरा पर निकल गए जहां चंद्रपुर विधानसभा के विभिन्न क्षेत्रों में उन्होंने दौरा भी किया और बाढ़ पीड़ितों से उनका हाल चाल जाना और उनका हौसला भी बढ़ाये. साथी साथ शासन प्रशासन की सभी जिम्मेदारियों को वे निर्देश भी दिए क्षेत्र की जनता को किसी भी प्रकार की समस्या ना हो.

चंद्रपुर क्षेत्रवासी मेरे परिवार के सदस्य मैं यहां का विधायक नही बल्कि मैं यहां का बड़ा बेटा

देश और दुनिया कोरोना से परेशान है वही हमारे क्षेत्र के लोगों के लिए बाढ़ की समस्या दोहरी मार है.लेकिन हम इस समस्या से जल्द ही निपट लेंगे . फिर से खुशहाली आएगी और हम सब एक साथ उस खुशहाली को मनाएंगे.चंद्रपुर क्षेत्रवासी मेरे परिवार के सदस्य मैं यहां का विधायक नही बल्कि मैं यहां का बड़ा बेटा हूं.

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button