विशेष

Haryana: नहीं थम रहा किसानों का गुस्सा, पानीपत से दिल्ली कूच कर रहे किसानों पर हरियाणा पुलिस की कार्रवाई, दागे आंसू गैस के गोले

नई दिल्ली। (Haryana) कृषि बिल के विरोध में किसानों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है. सबसे अधिक विरोध हरियाणा,पंजाब और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में देखने को मिल रहा है. हरियाणा के पानीपत में दिल्ली कूच कर रहे किसानों पर हरियाणा(Haryana)  पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे हैं उन पर पानी की बौछार की गई है. इसके साथ ही किसानों को हिरासत में ले लिया गया.

प्रदर्शन कर रहे किसानों का कहना है कि अध्यादेश किसानों का डेथ वारंट है. इसे किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे. जो पहले से उन्हें मिल रहा है, वह उसको लेकर खुश हैं. सरकार और ज्यादा देने का प्रयास ना करें. उन्होंने कहा कि सरकार किसानों को उनकी जमीन को अडानी और अंबानी को बेचने का काम कर रही है.

Bijapur: बड़ी कामयाबी, मरीवाड़ा- गोंगला के जंगल में सुरक्षाबलों ने कैम्प किया ध्वस्त, 1 जवान घायल

(Haryana) किसान नेताओं का कहना है कि सरकार लोगों के साथ धोखा कर रही है, क्योंकि तीनों अध्यादेश पूंजीपतियों के लिए है और पूंजीपति किसान की फसल का मनचाहा एमएससी लगाएंगे, जिससे किसान की हालत और भी ज्यादा खराब होगी. आज पूरे देश का किसान रोड पर उतर कर इसका विरोध कर रहा है.

25 सितंबर को भारत बंद का ऐलान

भारतीय किसान यूनियन और अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति ने 25 सितंबर को भारत बंद का ऐलान किया है. भाकियू के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने बताया कि देशभर के किसान 25 सितंबर को कृषि सुधार विधेयक 2020 के विरोध में धरना प्रदर्शन और चक्का जाम करेंगे. यूपी के किसान अपने-अपने गांव, कस्बे और हाईवे का चक्का जाम करने का काम करेंगे.

Congress ने कहा- BJP सांसदों ने दिल्ली में जब भी कुछ कहा राज्य के हितों के खिलाफ कहा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button