गरियाबंद

Gariyaband: तेतलखुटी चेक पोस्ट से कर्मचारी नदारद, जब औचक निरीक्षण को पहुंचे कांग्रेसी नेता, मीडिया से बात करते हुए क्या कहा पढ़िए

रवि तिवारी@देवभोग। (Gariyaband) धान तस्करों पर नकेल कसने  कलेक्टर एसपी सक्रिय है। स्थानीय अमला लापरवाही बरत रहे। शिकायत पर कांग्रेसी नेता तेतलखुटी चेक पोस्ट पहुंचे। जहां से कर्मी नदारद मिले। इधक बिरीघाट चेक पोस्ट भी खाली मिला।

देवभोग व अमलीपदर थाना क्षेत्र अंतर्गत 16 चेक पोस्ट

(Gariyaband) देवभोग व अमलीपदर थाना क्षेत्र के 16 चेक पोस्ट है। पर इनमे से  फिर एक बार तेतलखुटी चेक पोस्ट में पूरा का पूरा स्टाफ नदारत मिला। झरगाव में कांग्रेसी कार्यकर्ता के घर एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने प्रदेश कांग्रेस के पूर्व पदाधिकारी विनोद तिवारी पहुंचे हुए थे। वहां उन्हें शिकायत मिली कि कुछ लोगों को फायदा पहूँचाने जान बूझ कर तेतल खुटी चेक पोस्ट को खाली करा दिया जाता है। (Gariyaband) यह भी बताया कि रविवार को चेक पोस्ट में शाम 6 बजे से कोई भी नही है। ऐसा पहली बार नही हुआ है। कई मर्तबा इसी तरह चेक पोस्ट खाली कर सीधे मार्ग से ओडिसा का धान इस इलाके में कुछ प्रभावशाली लोगो द्वारा लाया जाता है।

शिकायत की तस्दीक करने पहुंचे कांग्रेसी नेता

शिकायत की तस्दीक करने विनोद तिवारी यूथ काँग्रेस के स्थानीय पदाधिकारियो के साथ चेक पोस्ट पहूँचे।तिवारी ने बताया कि वे जब पहुंचे तो रात के 10:30 बज रहे थे।  वे 11:30बजे तक रुके रहे। वहां जिन किसी भी कर्मचारियों की ड्यूटी लगी थी। उनमे से एक भी नही थे।मामले कि सूचना रात को कलेक्टर को दिया। मामले की जांच कराने की बात कलेक्टर नीलेश क्षीरसागर ने कही है।

केवल एसपी कलेक्टर ही निभाएंगे जिम्मेदारी,स्थानीय अमला पर उठाया सवाल

 मामले को नजदीक से देखने के बाद प्रदेश कांग्रेस के पुर्व संयुक्त महामंत्री विनोद तिवारी ने स्थानीय अमला के कार्यशैली पर सवाल खड़ा किया है। तिवारी ने मीडिया से कहा कि  यह क्षेत्र तीनों छोर से ओडिसा के तीन जिलों से घिरा हुआ है। दूसरे प्रदेश की सीमा पर सर्वाधिक 16 चेक पोस्ट यंहा लगें हैं। तस्करो को पकड़ कर एसपी की स्पेशल टीम अच्छे परिणाम दे रहे हैं। कलेक्टर भी चेक पोस्ट की निगरानी करते हैं।

Delhi Metro: ड्राइवरलेस मेट्रो ट्रेन को पीएम मोदी ने दिखाई हरी झंडी, मजेंटा लाइन और पिंक लाइन पर दौड़ेगी ट्रेन

कलेक्टर ने निभाया अपना ड्यूटी

तिवारी ने कहा कि घटना की जानकारी सुनने कलेक्टर रात 12 बजे अपनी ड्यूटी निभाया। फिर स्थानीय अमला क्यो अपनी जवाबदारी नहीं निभा रहे हैं। घटों तक चेक पोस्ट में तैनात कर्मी का नदारत होना। एक ही चेक पोस्ट में बार बार इस घटना की पुनरावृत्ति होना किसी सोची समझी साजिश का हिस्सा है,जिसकी जांच होनी है।

बिरिघाट चेक पोस्ट भी खुला मिला

तेतलखुटी के बाद कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के साथ विनोद तिवारी रात 12 बजे नवरंगपुर सीमा पर लगे बिरिघाट चेक पोस्ट पहुंचे। वहां भी कर्मी नदारत मिले। लापरवाही की हद तब हो गई जब नेताओ को चेक पोस्ट का रजिस्टर भी पड़ा हुआ दिखा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button