विशेष

Corona वाली शादी, आखिर क्यों दुल्हा-दुल्हन को पीपीई कीट में लगाने पड़े फेरे…?

नई दिल्ली। (Corona) कोरोना ने शादी की रस्मों को पूरी तरह से बदल दिया. जो शादियां पहले धूमधाम से होती अब ऐसा हुआ कि 50 से अधिक लोग शादी समारोह में शामिल नहीं हो सकते. दुल्हा-दुल्हन के रिश्तेदार वीडियो कॉलिग के माध्यम से आशीर्वाद देने लगे. पहली बार ऐसा हुआ होगा जब बिना बैंडबाजा के दुल्हन के द्वार पर दुल्हा बारात लेकर पहुंचा. कोरोना लॉक़डाउन की वजह से कई शादियों की तारीखें आगे बढ़ा दी गई. या कैंसिल हुई.

(Corona) संयोग वश शादी में कोई मेहमान की रिपोर्ट पॉजिटिव आती तो पूरे परिवार को कोविड सेंटर में भेज दिया जाता है. (Corona) इसी बीच राजस्थान की एक शादी सुर्खियों में बनी हुई है. क्या आपको पता है कि शादी में दुल्हा-दुल्हन शादी के लिबास में ना होकर पीपीई किट पहनकर शादी रचाई. जी हां तो आप सहीं समझ रहे हैं. राजस्थान के बारां में दुल्हन के चाचा की रिपोर्ट दो दिन पहले कोरोना पॉजिटव आई थी। जिसके बाद पूरे परिवार को कोरोना टेस्ट हुआ। जिसमें दुल्हन की मां और खुद दुल्हन कोरोना पॉजिटव आ गई.

ऐसे में स्वास्थ्य विभाग के लोगों ने दूल्हा-दुल्हन और पंडित जी को पीपीई किट पहनाकर शादी की रस्में पूरी करवाई. अब ये शादी आस पास के गांवों में चर्चा का विषय बनी हुई है.

कोविड केयर सेंटर में शादी

ना-नुकुर करने के बावजूद दुल्हन को कोविड-केयर सेंटर ले जाया गया. परिवार ने स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों और जिला प्रशासन से काफी मान-मनौअल की. इसके बाद शादी को मंज़ूरी दी गयी लेकिन शर्त रखी गई कि शादी कोविड केयर सेंटर में ही होगी और मंडप में दूल्हा-दुल्हन और पंडित के अलावा कोई नहीं होगा. कन्यादान के लिए लड़की के पिता को भी मंडप में रहने की इजाज़त दी गई. कोविड-केयर सेंटर में ही मंडप सजा. दूल्हा-दुल्हन, पंडित और दुल्हन के पिता को पीपीई किट पहनाई गई. इसके बाद दोनों की शादी हुई.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button