राजनीति

Congress: भाजपा प्रवक्ता के बयान पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया, कहा- जन स्वास्थ्य जैसे मुद्दों पर भाजपा को नहीं करना चाहिए ओछी राजनीति

रायपुर। (Congress) भाजपा प्रवक्ता द्वारा दिए गए मात्र 560 ऑक्सीजन बैड के आंकडे को झूठा एवं मनगढ़ंत करार देते हुए प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा कोरोना आपदाकाल में सहयोग नहीं कर सकती तो कम से कम झूठा और अफवाह फैलाने वाली बयानबाजी कर जनता को डराना बंद करें। भाजपा प्रवक्ता के द्वारा राज्य में मात्र 560 ऑक्सीजन बैड उपलब्ध होने का दावा सरासर झूठा मनगढ़ंत आधारहीन है।

32,938 बेड उपलब्ध

प्रदेश कांग्रेस (Congress)प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि राज्य में कोविड-19 के उपचार के लिए 32938 बैड उपलब्ध है।जिसमे ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड की संख्या 2283 है ।आईसीयू ऑक्सीजन सपोर्टेड बैड की   842 की संख्या में उपलब्ध है।राज्य के कोविड केयर सेंटर में 27638 बैड है जिनमे ऑक्सीजन बैड की संख्या 880 है।,सरकारी डीसीएच में 3726 बैड है जिनमें ऑक्सीजन बैड की संख्या 787 है.

निजी अस्पतालों में 1573 बेड

(Congress) निजी अस्पतालों में 1573 बेड है जिनमें ऑक्सीजन बेड की संख्या 616 है। 2000 नया ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड और सामान्य बैड की अतिरिक्त व्यवस्था की जा रही है। राज्य के सभी मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में ऑक्सीजन प्लांट लगाया जा रहा है। कोरोना पॉजिटिव पाए गए मरीजों के इलाज के लिए प्रदेश में पर्याप्त मात्रा में बैड वेंटिलेटर आईसीयू दवाई,ऑक्सीजन और रहने खाने की व्यवस्था है।

आपदा काल में राजनीति का अवसर तलाश रहे बीजेपी

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के 19 महीने के जनहितेषी कार्यों और कोविड-19 रोकथाम के लिए किए गए कारगर एवं नीतिगत उपायों बाद भाजपा के पास मुद्दा ही नहीं बचा है।भाजपा नेता आपदा काल में राजनीति की अवसर तलाश रहे है।

Dhamtari: मजे में हाथी, परेशान राहगीर, देखिए हाथियों का सड़क पर टहलने का ये Video
भाजपा नेताओं को झूठ बोल कर राजनीति करने की आदत

भाजपा नेताओं को झूठ बोल कर राजनीति करने की आदत है आपदा में भी भाजपा सहयोग करने के बजाए झूठे फर्जी गुमराह करने वाले आंकड़े और बयान बाजी कर जनता को डरा रही है।दुर्भाग्य की बात है भाजपा राजनीति करने बीमारी और मौत का सहारा ले रही है। जन स्वास्थ्य  से जुड़े मामलों में भाजपा को ओछी राजनीति नहीं करना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button