राजनीति

Congress का भाजपा से सवाल- मोदी द्वारा लोकतंत्र की महिमा का गान सिर्फ ढोंग और दिखावा : झूठा आडंबर मात्र

रायपुर। (Congress) भाजपा नेता जगत प्रकाश नड्डा के काफिले पर कथित पथराव से विचलित होकर पश्चिम बंगाल के राज्यपाल द्वारा संवाददाताओं से चर्चा और मुख्यमंत्री को चेतावनी दिए जाने के घटनाक्रम पर कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि आज जीरम की घटना हम छत्तीसगढ़ वासियों को याद आ रही है, (Congress) जब 29 लोगों की जाने माओवादी हमले में चली गयी थे। (Congress) हमला ठीक उसी स्थान पर हुआ था जहां पर भाजपा की रमन सिंह सरकार ने सुरक्षा मुहैया नहीं कराई थी। उस घटनाक्रम में मोदी या भाजपा ने या भाजपा की राज्य सरकार ने कोई संवेदनशीलता नहीं दिखाई थी और ना ही भाजपा की राज्य सरकार की सेहत पर उस दुखद घटना से को कोई फर्क पड़ा था। आज तक झीरम के उस घटनाक्रम की जांच नहीं होने देने में जीरम के घटनाक्रम के बाद बनी भाजपा की केन्द्र सरकार और पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह सहित भाजपा की पूरी ताकत लगी हुई है। ममता बनर्जी से खतरनाक खेल त्याग देने की बात कहने के लिए पश्चिम बंगाल के राज्यपाल ने संवाददाताओं का सहारा लिया और राज्यपाल के पद से जुड़ी तमाम मर्यादायें और सीमाएं तोड़ दी। भाजपा की केन्द्र सरकार के गृहसचिव पश्चिम बंगाल के प्रमुख सचिव और डीजीपी की पेशी कर रहे है। सारी भाजपा कथित पत्थर बाजी की घटना को लेकर एक महिला ममता बेनर्जी को निशाने में ले रही है। लेकिन भाजपा को इस सवाल का जवाब देना चाहिये कि जीरम कांड में विपक्षी नेताओं की पूरी पीढ़ी की शहादत के समय भाजपा की यह सारी संवेदना कहां सोयी पड़ी थी?

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि हर तरह की हिंसा निंदनीय है, लेकिन केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने इसे राज्य प्रायोजित कहकर गंभीर सवाल खड़े कर दिये है। नड्डा के काफिले पर पत्थर चलने को कथित घटना पर हायतौबा मचा रहीं भाजपा और भातपा के केन्द्र सरकार केन्द्रीय गृहमंत्री को और केन्द्र की भाजपा सरकार को यह बताना चाहिये कि यह राजनैतिक बयान है या गृह मंत्रालय की रिपोर्ट है। जीरम के घटनाक्रम में ठीक उसी जगह हमला होना जहां रमन सिंह की सरकार ने बिना पूर्व सूचना के सुरक्षा हटा ली थी, इसे अमित शाह राज्य प्रायोजित हत्याकांड मानते है या नहीं? अब तो यह स्पष्ट हो जाना चाहिये। 

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने भाजपा से पूछा है कि शहीद नंद कुमार पटेल शहीद विद्याचरण शुक्ल शहीद महेंद्र कर्मा शहीद दिनेश पटेल शहीद योगेंद्र शर्मा शहीद अभिषेक गोलछा शहीद गोपी माधवानी सहित 29 लोगों की जानें चली गई लेकिन तब भाजपा को वह खेल खतरनाक क्यों नहीं लगा था? जगत प्रकाश नड्डा के काफिले पर एक पत्थर चलने की कथित घटना को लेकर पूरी केंद्र सरकार से लेकर केंद्रीय गृह सचिव तक सक्रिय हो गए। यह भाजपा का दोहरा चरित्र है। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा नए संसद भवन के शिलान्यास के समय लोकतंत्र की महिमा गाई गई। मोदी और भाजपा के दोहरे आचरण के परिपेक्ष्य में मोदी द्वारा लोकतंत्र का महिमा का गान सिर्फ एक ढोंग दिखावा और आडंबर के अलावा और कुछ भी नहीं है।

Related Articles

9 Comments

  1. Hello there, I do believe your website may be having web browser compatibility problems.
    Whenever I look at your site in Safari, it looks fine however,
    when opening in I.E., it has some overlapping issues.
    I just wanted to give you a quick heads up! Other
    than that, excellent website!

  2. I do consider all the concepts you’ve presented for your post.
    They’re really convincing and will definitely work. Nonetheless, the posts are very quick
    for beginners. Could you please prolong them a bit from next time?
    Thank you for the post.

  3. Hello, i read your blog from time to time and i own a similar one
    and i was just wondering if you get a lot of spam comments?
    If so how do you stop it, any plugin or anything you can advise?
    I get so much lately it’s driving me insane so any assistance is very much appreciated.

  4. It’s appropriate time to make a few plans for the longer
    term and it’s time to be happy. I have read
    this submit and if I could I want to recommend you some
    interesting things or advice. Perhaps you can write subsequent articles regarding this article.

    I wish to learn more things about it!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button