छत्तीसगढ़

Chhattisgarh: विकास उपाध्याय ने कहा- गृह मंत्री के सह पर EVM मशीन का हो रहा है हाईजैक, मुख्यमंत्री के प्रचार से भाजपा का शीर्ष नेतृत्व घबराया

गुवाहाटी (असम)। (Chhattisgarh) कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव व असम प्रभारी विकास उपाध्याय ने आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के व्यस्ततम् कार्यक्रम की जानकारी देते हुए भाजपा पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि भूपेश बघेल के धुँआधार प्रचार से भाजपा के शीर्ष नेता भयभीत हो गए हैं। (Chhattisgarh) यही वजह है कि हार के डर से अब भाजपा के लोग अपने आदतन गलत तरीके से जीत हासिल करने का रास्ता अख्तियार करने लगे हैं। उन्होंने आश्चर्य व्यक्त किया है कि असम के पथरकंडी विधानसभा सीट के बीजेपी उम्मीदवार कृष्णेंदु पाॅल की सफेद रंग की बोलेरो में ईवीएम की मशीन कैसे आ गई।

(Chhattisgarh) विकास उपाध्याय ने सीधा आरोप लगाया कि इस तरह के अनैतिक कार्य बगैर गृह मंत्री अमित शाह के सह के बिना नहीं हो सकता। उन्होंने चुनाव आयोग से तत्काल संज्ञान लेने की बात कर ठोस कार्यवाई करने की मांग की है।

विकास उपाध्याय असम में होने वाले तीसरे व अन्तिम चरण के मतदान को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को लामबंद करने जुट गए हैं। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि कांग्रेस के स्टार प्रचारक व समन्वयक छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज व्यस्ततम् कार्यक्रम में सम्मिलित होकर सरूखेत्री, गोलपारा, धुबरी जैसे महत्वपूर्ण स्थानों में पब्लिक मीटिंग एवं आम सभा के साथ कई जगह रोड-शो कर कांग्रेस के पक्ष में धुँआधार प्रचार करेंगे। विकास उपाध्याय ने कहा, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रचार अभियान से भाजपा का शीर्ष नेतृत्व घबरा गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने भाषणों एवं सभाओं में जिस तरह से छत्तीसगढ़ माॅडल को प्रस्तुत करते हुए भाजपा नेताओं के कथनी व करनी को असम की जनता के समक्ष उजागर कर रहे हैं, उससे भाजपा नेतृत्व डर गई है और इस भय से घबरा कर आदतन भाजपा अनैतिक कार्यों को करने लग गई है।

विकास उपाध्याय ने अपने बयान में भाजपा पर सीधा हमला बोलते हुए कहा, गृह मंत्री अमित शाह के सह पर असम में ईवीएम मशीनों को कीडनैपिंग करने की शुरूआत कर दी गई है। परन्तु जिस तरह की चोरी सार्वजनिक रूप से उजागर हुई है और भाजपा प्रत्याशी के ही बोलेरो गाड़ी में ईवीएम मशीन जब्त हुआ है, इससे साफ जाहिर है कि अमित शाह की सह पर और भी कई विधानसभा क्षेत्र में इस तरह की गतिविधियों को अंजाम दिया जा रहा है। उन्होंने कहा, असम में जिस तरह से मतदान प्रतिशत तेजी से बढ़ा है, उससे भाजपा का शीर्ष नेतृत्व को आभास हो गया है कि वह यह चुनाव बुरी तरह से हार रही है। प्रथम चरण में हुए मतदान में कांग्रेस गठबंधन को जहाँ 35 से भी ज्यादा सीटें मिलना तय है, वहीं दूसरे चरण के लिए 39 सीट में 30 से भी ज्यादा सीटें मिलना तय है। विकास उपाध्याय ने कहा, इन तमाम समीकरणों से भाजपा की स्थिति बत्तर से भी बत्तर हो गई है। उन्होंने चुनाव आयोग से मांग की है कि असम में निष्पक्ष मतदान हो पर ध्यान रखें अन्यथा लोकतंत्र में इस तरह के भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किए जाएँगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button