Chhattisgarh

Chhattisgarh: क्रान्ति सेना का एक दिवसीय ‘जबर गोहार’ आंदोलन, सरकार के सामने रखेंगे ये मुद्दे

रायपुर : (Chhattisgarh) राज्य के मूल छत्तीसगढ़िया किसान आज सभी तरफ से परेशान और हलाकान है, एक तरफ शासन किसानों के लिए योजनाएं ला रही है तो दूसरी तरफ किसान आत्महत्या कर रहे हैं। नकली बीज, खाद्य, किटनाशक व अन्य कृषि सामाग्री से किसानों को भारी नुक़सान का सामना करना पड़ रहा है, परिणामस्वरूप मजबूरन आत्मघाती कदम उठाने मजबूर हो गए हैं।

(Chhattisgarh) छत्तीसगढ़िया क्रान्ति सेना किसान भाईयों की हर समस्याओं को शासन प्रशासन के सामने दमदारी से लाकर विरोध करतीं हैं। सेना लगातार इन बाहरी कृषि दुकानदार के खिलाफ आवाज उठाते आ रही है, किसानों के उपर हों रहे अत्याचार के खिलाफ छत्तीसगढ़िया क्रान्ति सेना एक दिवसीय जबर गोहार आंदोलन करने जा रही है। मंगलवार 3 नवंबर सुबह 10 बजे से रायपुर के बुढ़ा तालाब में आयोजित हैं।

(Chhattisgarh) प्रदेश संयोजक गिरधर साहू ने बताया किसानों के पक्ष में क्रान्ति सेना विभिन्न मांगों को प्रशासन के सामने दमदारी से रखेगी वे मुद्दे निम्न हैं – वर्ष 2020 में आत्महत्या करने वाले किसानों को 25-25 लाख रुपए का मुआवजा तत्काल दिया जाए। नक़ली दवाई (जैविक खाद के नाम पर केमिकल) बेचने वाले गैर छत्तीसगढ़िया कृषि व्यापारी उद्योगपति के खिलाफ तत्काल अपराध पंजीबद्ध कर जेल भेजा जाए।

Bemetara: कल मजदूर करेंगे रायपुर मार्ग में चक्का जाम….जानिए इसके पीछे की वजह

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button