Chhattisgarh

Chhattisgarh: असम के तिओक विधानसभा पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, बूथ स्तर पर देंगे प्रशिक्षण, अपेक्षा से ज्यादा कांग्रेस के लोगों ने उपस्थिति दर्ज कराई

असम (जोरहाट)। (Chhattisgarh) छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल असम चुनावी दौरे के बीच आज दूसरे दिन जोरहाट जिला के तिओक विधानसभा में बूथ स्तर की बैठक में सम्मिलित होकर बूथ ट्रेनिंग संकल्प शिविर का शुभारंभ किया। वंदे मात्रम के साथ शुरूआत हुए इस शिविर में 2000 से भी ज्यादा कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मिलित हैं। (Chhattisgarh) असम के इस क्षेत्र में पहली दफा ऐसा हो रहा है, (Chhattisgarh) जब कांग्रेस की सक्रियता बूथ स्तर पर देखी जा रही है। असम गणपरिषद् और भाजपा के गठबंधन के प्रभाव वाले इस क्षेत्र में विकास उपाध्याय की लगातार भ्रमण और बैठकों की वजह से यह स्थिति बनी है कि कांग्रेस पार्टी में लोग पूरे उत्साह के साथ इस बार के चुनाव में आगे बढ़कर सम्मिलित हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दो दिवसीय असम चुनाव के दौरे पर यहाँ पहुँचे हुए हैं। कल वे दो जिलों में पब्लिक मीटिंग के माध्यम से कांग्रेस में जान डालने का काम किया, वहीं पहली दफा ऐसा हो रहा है जब किसी प्रदेश का मुख्यमंत्री बूथ स्तर की प्रशिक्षण शिविर में सम्मिलित होकर कांग्रेसियों को कांग्रेस के पक्ष में वोट को कैसे परिवर्तित किया जाए, के नुख्स बताएँगे। आज जोरहाट जिला में तिओक विधानसभा के 180 बूथ वाले इस प्रशिक्षण शिविर में 2000 से भी ज्यादा कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मिलित हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल असम के इन कांग्रेस कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण देते हुए आव्हान किया है कि इसी प्रशिक्षण स्थल से जब आप निकलकर एक-एक घरों से मतदाताओं को पोलिंग बूथ तक कांग्रेस विचारधारा के साथ ले जाएँगे, तभी कांग्रेस को जीत हासिल होगी। मुख्यमंत्री के उद्बोधन से प्रशिक्षण शिविर में सम्मिलित कांग्रेसियों में जबरदस्त उत्साह देखा गया।खास कर मुख्यमंत्री के सलाहकार राजेश तिवारी ने अपनी उपस्थिति दर्ज कर इस प्रशिक्षण शिविर में अपनी अनुभव साझा कर जान फूंक दी।

असम प्रभारी एवं कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव विकास उपाध्याय के प्रभार वाले इस जिले में वे कई दौर की बैठक कर असम कांग्रेस में पहली बार पन्ना सदस्य बनाये जाने की पहल करते हुए एक-एक मतदाता तक पहुँचने का रास्ता तय किया है। आज के इस प्रशिक्षण शिविर में ऐसे वे सभी बूथ अध्यक्ष व पन्ना सदस्य सम्मिलित हैं, जो पूरे 180 बूथ को कवर करते हुए पूरे विधानसभा में सक्रियता ला सकते हैं। ज्ञातव्य हो कि यह विधानसभा व पूरा अंचल वर्तमान में असम गणपरिषद् के भाजपा के साथ गठबंधन का कब्जा है और इस विधानसभा को भेदने की जिम्मेदारी विकास उपाध्याय ने ली है। आज इस प्रशिक्षण शिविर के पश्चात् तय हो गया है कि इस विधानसभा को कांग्रेस हर हाल में जितने जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button