बिलासपुर

Bilaspur: उज्ज्वला गृह बिलासपुर के संचालक के खिलाफ कार्रवाई, हुआ गिरफ्तार, आगे की कार्यवाही जारी

बिलासपुर। (Bilaspur) उज्ज्वला गृह बिलासपुर के संचालक के विरुद्ध गंभीर प्रकृति की शिकायत प्राप्त होने पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। आगे की कार्यवाही में जुटी है। उज्ज्वला गृह बिलासपुर का संचालन  एनजीओ शिवमंगल शिक्षण समिति  द्वारा वर्ष 2014 से किया जा रहा है। (Bilaspur)  17 जनवरी की रात्रि में संस्था में निवासरत 3 महिलाओं एवं संस्था संचालक द्वारा एक दूसरे के विरुद्ध सरकंडा थाने में शिकायत दर्ज की गई।

Raipur: जब व्यापार पैनल ने निवर्तमान कार्यकारिणी की कार्यशैली पर उठाए सवाल, पढ़िए

(Bilaspur) संस्था  में 17 जनवरी को हुए घटनाक्रम की जांच संचालक महिला बाल विकास; संयुक्त संचालक महिला बाल विकास एवं सहायक संचालक महिला बाल विकास द्वारा जांच की गई ।  महिलाओं द्वारा संस्था संचालक एवं संस्था के कर्मचारियों के विरुद्ध गंभीर शिकायत मिली। उच्चाधिकारियों द्वारा त्वरित निर्णय लेते हुए संस्था में निवासरत शेष 7 महिलाओं को उनके परिजन एवम अन्य संस्था में स्थानांतरित किया गया है । इसके साथ ही वर्तमान में संस्था में किसी भी महिला के रहने पर रोक लगा दी गई है ।

Video: नहीं हो पाई कर्मचारियों की मांग पूरी, अब 7 सूत्रीय मांगों को लेकर शहर में निकाली रैली, कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

उज्ज्वला गृह बिलासपुर के संबंध में विभाग को लैंगिक उत्पीड़न सम्बन्धी कोई भी शिकायत  प्राप्त नही हुई है । संस्था का समय समय पर अधिकारियों द्वारा निरीक्षण किया जाता रहा है । संस्था को इस वित्तीय वर्ष में अनुदान नही दिया गया है ।17 जनवरी की रात बिलासपुर सरकंडा स्थित उज्जवला होम में विवाद होने के पश्चात थाना सरकंडा में पीड़ितों की रिपोर्ट पर उज्जवला होम के स्टाफ द्वारा जबरदस्ती वंहा रखे जाने, मारपीट करने इत्यादि के आरोप पर उज्जवला होम  के स्टाफ के खिलाफ अपराध क्रमांक 79/21 धारा 342, 294, 323 आईपीसी की एफआईआर दर्ज कर विवेचना प्रारंभ की गई थी. 4 महिलाओं का आज कोर्ट में 164 का बयान दर्ज कराया गया. बयान में धारा 376 और 354 आईपीसी के कंटेंट आने पर जितेंद्र मौर्य के खिलाफ धाराएं जोड़कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है. विवेचना जारी है.

Related Articles

20 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button