बालोद

Balod: यहां ना रास्ता है..सिर्फ पगडंडी से होकर गुजरते है लोग….वहां के ग्रामीणों के लिए प्रशासन ने किया ऐसा काम..,सुनकर आप भी करेंगे तारीफ

शिव जायसवाल@बालोद। (Balod) जिस गांव में जाने के लिए 4 किमी पगडंडी वाले उबड़ खाबड़ रास्ते से होकर गुजरना पड़ता है। उस गांव में आज प्रशासन ने रोजगार मुहैया कराया है। जिससे अब वहां के लोग कम मेहनत में अधिक आय अर्जित कर रहे हैं।

(Balod) जिले के एकमात्र आदिवासी बाहुल्य ब्लॉक डौण्डी क्षेत्र के आदिवासियों के लिए विशेष केन्द्रीय सहायता उपयोजना के तहत हिड़कापार गांव के लोगों को कुटकुट पालन के लिए नि:शुल्क चुजे प्रशासन ने उपलब्ध कराये हैं।

(Balod)  इसके अलावा पास के दो अन्य गांव को मिलाकर 55 लोगों को भी कड़कनाथ मुर्गी का चुजा दिया गया है। जिससे आज उनकी आमदानी में वृद्धि के साथ उनकी आर्थिक स्थिति सुधर रही है।

Movie: ‘ लफड़ा ‘ फ़िल्म में प्यार की सजा मौत …

ग्रामीणों में दिखा काफी उत्साह

आदिवासियों ने कभी सोंचा भी नहीं था कि प्रशासन उनके रोजगार के लिए इतनी सहायता करेगी। जिससे उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। लेकिन प्रशासन के इस प्रयास से लोगों में काफी उत्साह है। चुजा देने से पहले प्रशासन से हिड़कापार गांव में 20 लोगों के लिए एक ही स्थान पर शेड तैयार किया गया। जिसके बाद शेड के अंदर चारे पानी के प्रबंध के साथ सभी हितग्राहियों को चुजे दिये गये हैं। आपको बता दें कि कड़कनाथ मुर्गी को बेचकर अब तक 3 लाख रूपये कमा चुके हैं।

महिला बाल विकास मंत्री ने की तारीफ

इधर महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया के विधानसभा क्षेत्र में प्रशासन द्वारा किए गए इस कार्य को लेकर मंत्री प्रतिनिधि पीयूष सोनी की सराहना की। इसी तरह लगातार लोगों के हित के लिए जमीनी स्तर पर कार्य करने प्रशासन को कहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button