सरगुजा-अंबिकापुर

Ambikapur: पुलिस की बड़ी कार्यवाही, नशीली कप सिरप के साथ 2 आरोपी गिरफ्तार, एक फरार

शिव शंकर साहनी@अंबिकापुर। (Ambikapur) जिले के गांधीनगर पुलिस ने बीती रात एनडीपीएस एक्ट के तहत एक बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस की टीम ने नशीली कप सिरप के साथ दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। लेकिन पकड़े गए एक आरोपी के बयान से पुलिस अपनी ही कार्यवाही में फसती हुई नजर आ रही है।

गांधीनगर पुलिस ने शनिवार की रात एक एनडीपीएस एक्ट के तहत बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। पुलिस की टीम ने मुखबिर की सूचना के आधार पर सरगुजा एवं सूरजपुर जिले के सीमा से दो युवकों को नशीली कप सिरप के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 240 नग प्रतिबंधित कप सिरप बरामद किया है। दरअसल गांधीनगर पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली की बस के जरिए बनारस से नशीली कफ सिरप की खेप अंबिकापुर आ रही है। इस प्रतिबंधित कप सिरप को सूरजपुर निवासी युवकों ने मंगाया है। सूचना के आधार पर पुलिस की टीम ने कालीघाट अजिमा के पास घेराबंदी कर दो युवकों को कफ सिरप के साथ धर दबोचा। जबकि पुलिस के मुताबिक कार सवार शोएब खान नाम का एक युवक मौके से फरार हो गया। वहीं पकड़े गए दो युवकों की शिनाख्त सूरजपुर निवासी जोगेंद्र प्रजापति एवं मनोज गुप्ता के रूप में हुई है। इन दो आरोपियों के खिलाफ पुलिस एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई कर उन्हें न्यायिक रिमांड में पेश की है। गांधीनगर पुलिस द्वारा  जारी किए गए प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक फरार हुए कार सवार आरोपी शोएब खान की पुलिस तलाश कर रही है।

पुलिस के मुताबिक यह कार शोएब खान की है। लेकिन पकड़े गए आरोपी मनोज गुप्ता का कहना है कि जिस कार से शोएब खान को फरार होना पुलिस बता रही है वह कार उसकी है। आरोपी मनोज गुप्ता ने बताया कि योगेंद्र प्रजापति ने उसे फोन कर मदद के लिए बुलाया था। मनोज गुप्ता अपनी कार से आरोपी जोगेंद्र प्रजापति से मिलने पहुंचा इससे पहले पुलिस ने उसे पकड़ लिया था। पुलिस को देख वह वापस अपने घर लौट रहा था।

 जिसका पीछा करते हुए गांधीनगर पुलिस सूरजपुर जिले में पहुंच गए। इसी दौरान आरोपी मनोज गुप्ता की कार अनियंत्रित होकर सूरजपुर नया रेस्ट हाउस के पास पलट गई। जिसके बाद पुलिस उसे भी पकड़ कर गांधीनगर थाने ले आ गए। सूत्रों के मुताबिक जिस कार से आरोपी शोएब खान को फरार होना पुलिस बता रही हैं। वह कार सड़क दुर्घटना के बाद सूरजपुर थाने में खड़ी है। बहरहाल गांधीनगर पुलिस की एनडीपीएस एक्ट के तहत यह तो एक बड़ी कार्यवाही है। लेकिन गांधीनगर पुलिस की इस  कार्यवाही पर कई सवाल भी खड़े हो रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button