छत्तीसगढ़

Chhattisgarh: मौत के बाद भी दर-दर भटकते कोरोना मरीजों के परिजन, श्मशान में जलाने के लिए बारी का इंतजार, देखिए छत्तीसगढ़ का हाल, Video

रायपुर। (Chhattisgarh) छत्तीसगढ़ में दिन-ब-दिन कोरोना की रफ्तार मैं बढ़ोतरी होती जा रही है और हालात बद से बदतर नजर आ रही है. पिछले एक हफ्ते की अगर बात करें कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 97 हजार के ऊपर है वही 711 लोगों की मौत हो चुकी है. अब तक के कुल मरीजों की संख्या की बात करें तो वह पांच लाख पार कर चुका है. और साढे 5000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. (Chhattisgarh) थोड़ी सी राहत इस बात की की जा सकती है कि अब तक 386000 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं. फिलहाल छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में प्रतिदिन तीन से चार हजार मरीज मिल रहे हैं वही दुर्ग जिले में 2 से 3000 मरीजों की संख्या आ रही है.

(Chhattisgarh)  सरकारी आंकड़ों के हिसाब से अगर हम वैक्सीनेशन की बात करें तो छत्तीसगढ़ में इस समय लगभग 57% से ज्यादा हो चुका है. दूसरी ओर प्रदेश में इस वक्त हर दिन 40 से 50 हजार लोगों की जांच की जा रही है. जो पहले लगभग 20000 हुआ करता था. प्रदेश की हालात को देखते हुए ऐसे संकेत मिल रहे हैं की लॉक डाउन की तारीख 26 अप्रैल तक बढ़ाई जा सकती है. इस दौरान बैंक खुले रहेंगे लेकिन इसमें लिमिटेड कर्मचारी ही काम कर पाएंगे. वही सब्जी मंडी या तो फिलहाल बंद रहेंगी लेकिन वह घूम घूम कर सब्जी भेज सकते हैं.

इन सबके बावजूद मौत का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। मरच्यूरी से लेकर श्मशान घाट में लाशों की तस्वीरें आपको झकझोर कर रख देगी। श्मशान घाट में चिताओं और शवों की लंबी कतार प्रशासन के झूठे दावों से पर्दें हटा रही है। बीते दिनों रायपुर में 40 शवों के लिए परिजनो को 48 घंटे का इंतजार करना पड़ा। लेकिन ये हाल एक दिन का नहीं है। हर रोज कुछ ऐसी ही तस्वीरें ही सामने आ रही है। छत्तीसगढ़ की राजधानी, रायपुर, दुर्ग और राजनांदगांव में हालात बद से बदतर है। में  राजधानी में हालात ऐसे है कि चबुतरे के साथ-साथ जमीन पर लाशों का अंतिम संस्कार किया जा रहा है।यहां सुबह से लेकर रात 11 बजे तक शवों का अंतिम संस्कार किया जा रहा है। इतने शवों को देखकर प्रशासन भी थर्रा गया है। लाशों को जलाने के लिए अब लकड़ियों की कमी हो गई है। छत्तीसगढ़ में पहली मौत मई महीने में रायपुर के बिरगांव में हुई थी। उसके बाद से अब तक 5 हजार से अधिक मरीज कोरोना से दम तोड़ चुके हैं।

Related Articles

3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button