राजनीतिरायपुर

Vikas Upadhyay ने कहा- राम मंदिर निर्माण शुरू होने से राजीव गांधी का सपना अब जाकर हुआ साकार

रायपुर। (Vikas Upadhyay ) विधायक व शासन में संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर बड़ा बयान दिया है।

विकास उपाध्याय ने कहा राम मंदिर के निर्माण का सही मायने में सपना कांग्रेस व पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने ही देखा था।

(Vikas Upadhyay ) 1986 में इसका शिलान्यास कर शुरुआत भी कर दी थी।

इसके बाद राजीव गाँधी के हत्या हो जाने का फायदा उठा कर भाजपा आज तक राम मंदिर निर्माण को अपना वोट बैंक

का ही एक मात्र माध्यम बना कर राजनीति करते रही

विकास उपाध्याय ने कहा उच्चत्तम न्यायालय राम मंदिर निर्माण को लेकर निर्णय नहीं देती।

तो भाजपा आगे भी इस मुद्दे को अपने राजनीतिक फायदे के लिए ही उपयोग करते रहती।

विकास ने कहा अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण यदि आज होने जा रहा है

(Vikas Upadhyay ) तो कांग्रेस पार्टी इसके लिये पहला हकदार है,

ये बात और है कि कांग्रेस ने अपने राजनीतिक फायदे के लिए राम मंदिर को कभी मुद्दा नही बनाया।

जबकि भाजपा नेताओं की जुबानी से भी ये बात पूरे सोशल मीडिया में सुनी जा सकती है कि राम मंदिर निर्माण के पहले

प्रणेता व असली हीरो राजीव गाँधी ही थे।

विकास उपाध्याय ने कहा पहली बार 1986 में जब फ़ैज़ाबाद के ज़िला जज ने विवादित रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद को

लेकर कोर्ट से फ़ैसला सुनाया।

राजीव गांधी ने ही इस विवादित स्थल का ताला खुलवाया था।

इसके बाद राम मंदिर बनाये जाने शिलान्यास भी किया।

आज अयोध्या में इसका निर्माण करने पुनः यदि शिलान्यास हो रहा है तो एक तरह से उच्चतम न्यायालय ने राम मंदिर

को लेकर अब राजनीति न करने की सिख दी है।

Rakhi: कलेक्टर ने दी राहत, राखी पर यहां इतने बजे तक खुली रहेगी दुकानें, लोगों में खुशी

विकास उपाध्याय कहते हैं कांग्रेस पार्टी चूंकि अयोध्या में राम मंदिर बनाये जाने पहली बार राजीव गाँधी के हाथों

आधारशिला रखी थी

हम सुप्रीम कोर्ट के इस  आदेश का पालन किये जाने का जश्न मना रहे हैं।

विकास उपाध्याय ने बताया कि राजीव गाँधी का राम मंदिर का निर्माण  का सपना अब जाकर पूर्ण हुआ है

पूरे शहर को उनके द्वारा बैनर पोस्टर से सजाया जा रहा है

5 अगस्त को इसे लेकर विशेष तरह का कार्यक्रम भी किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button