देश - विदेश

Uttarakhand: 17 मई से खुलेंगे केदारनाथ के कपाट, उखीमठ से 14 मई को रवाना होगी केदार की डोली

देहरादून। (Uttarakhand) उच्च गढवाल हिमालयी क्षेत्र में स्थित विश्वप्रसिद्ध बाबा केदारनाथ (Kedarnath) के कपाट इस वर्ष श्रद्धालुओं के लिए 17 मई को सुबह 5 बजे खोले जाएंगे।

चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के एक प्रवक्ता ने बताया कि बृहस्पतिवार को महाशिवरात्रि (Mahashivratri) के पर्व पर विधि विधान से रूद्रप्रयाग (Rudraprayag) के उखीमठ के ओंकारेश्वर मंदिर में केदारनाथ मंदिर (Kedarnath Temple) के कपाट खोलने का मुहूर्त निकाला गया।

उन्होंने बताया कि बाबा केदार की डोली उनके शीतकालीन प्रवास स्थल उखीमठ से 14 मई को रवाना होगी। केदारनाथ मंदिर के कपाट पिछले साल 16 नवंबर को बंद हुए थे।

इससे पहले, (Uttarakhand) बसंत पंचमी (Basant Panchami) को एक अन्य धाम बदरीनाथ के कपाट 18 मई को सुबह सवा चार बजे खोले जाने का मुहूर्त निकाला गया था। बदरीनाथ धाम के कपाट 19 नवंबर को बंद कर दिए गए थे।

(Uttarakhand) चौदह मई को अक्षय तृतीया के पावन पर्व पर गंगोत्री और यमुनोत्री धामों के कपाट खुलने के साथ ही इस वर्ष की चारधाम यात्रा शुरू हो जाएगी।

गढवाल हिमालय के चार धामों के नाम से प्रसिद्ध बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट सर्दियों में भीषण ठंड और बर्फवारी की चपेट में रहने के कारण हर साल अक्टूबर—नवंबर में श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिए जाते हैं जो अगले साल अप्रैल—मई में खुलते हैं।

वर्ष के करीब छह माह चलने वाली इस यात्र के दौरान देश—विदेश से लाखों श्रद्धालु चारों धामों के दर्शन के लिए यहां पहुंचते हैं और चारधाम यात्रा को उत्तराखंड की आर्थिकी की रीढ माना जाता है।

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button