देश - विदेश

Telgana news: कोविड केयर सेंटर में लगी भीषण आग, जिंदा जले 7 लोग, मची अफरातफरी

विजयवाड़ा. (Telgana news) गुजरात के बाद अब आंध्र प्रदेश में विजयवाड़ा के स्वर्ण पैलेस होटल स्थित कोविड केयर सेंटर में रविवार सुबह आग लग गई.

इस हादसे में सात मरीजों की मौत हो गई। तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हो गये।

जिलाधिकारी मोहम्मद इम्तियाज ने बताया कि घटना में कोरोना वायरस के सात मरीज मारे गए।

(Telgana news) जिन रोगियों को बचाकर निकाला गया है,

(Telgana news) उन्हें एक निजी अस्पताल में शिफ्ट किया गया है।

उन सभी का इलाज चल रहा है और उनमें से तीन की हालत गंभीर बतायी जा रही है।

इस बीच,मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने मृतकों के शोक संतप्त परिजनों को 50 लाख रुपये की सहायता राशि

देने की घोषणा की है।

कोविड पॉ़जिटिव मरीजों के इलाज के लिए किराए पर था होटल

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एक निजी अस्पताल ने होटल को कोरोना रोगियों के इलाज के लिए किराये पर लिया था.

यहां कोविड केयर सेंटर स्थापित किया था। सेंटर में लगभग 30 कोरोना वायरस रोगियों का इलाज चल रहा था।

दहशत में आकर दो लोगों ने मंजिल से लगाई छलांग

पुलिस आयुक्त बी. श्रीनिवासुलु ने संवाददाताओं को बताया कि हादसे में तीन लोग मारे गए थे और यह पता लगाया जा

रहा है कि कमरों के भीतर कोई फंसा तो नहीं रह गया है।

आग लगने के कारण दो लोगों ने दहशत में आकर पहली मंजिल से छलांग लगा दी। उन्हें मामूली चोटें लगी हैं।

3 की हालत गंभीर

उन्होंने बताया कि झुलसे लोगों में से तीन की हालत गंभीर है जिससे मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है।

श्रीनिवासुलु ने बताया कि इलेक्ट्रिकल शॉर्ट सर्किट के कारण यह आग लगी।

Land grab: तुस्मा के किसानों ने लगाया आरोप, पहले भूमि पर कब्जा, फिर लिए 56 लाख रुपए, अब न्याय के लिए भटक रहे परेशान किसान

आग को 25 मिनट के भीतर बुझा दिया गया।

पहली मंजिल से ऊपरी मंजिल तक पहुंची आग

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि आग सबसे पहले होटल की पहली मंजिल पर लगी जो कुछ ही देर बाद भूतल में भी फैल गयी।

दोनों मंजिलों पर धुएं का गुबार भर गया। होटल में केवल एक ही निकास द्वार होने के कारण मरीज अपने कमरों से बाहर नहीं निकल सकें।

मरीजों को कमरे से निकालने के लिए लगाई गई सीढ़ियां

मरीजों को कमरों से निकालने के लिए सीढ़ी लगायी गयी।

दमकल के पांच वाहनों को आग बुझाने के काम में लगाया गया।

बचाये गये मरीजों को अन्य कोविड केयर सेंटर में स्थानांतरित किया गया।

अधिकारियों ने बताया कि घटना के समय

कोविड केयर सेंटर में पांच महिला रोगियों सहित 30 मरीज और 10 डॉक्टर एवं चिकित्सा कर्मचारी मौजूद थे।

धर्मादा मंत्री वेल्लमपल्ली श्रीनिवास ने होटल का दौरा किया.

अधिकारियों से मरीजों की स्थिति के बारे में जानकारी ली।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button