रायपुर

Raipur: संसदीय सचिव की पहल, अब महिला समूह की महिलाएं घर-घर जाकर करेंगी लक्षणों की जांच

रायपुर। (Raipur) संसदीय सचिव विकास उपाध्याय आज अपने विधानसभा क्षेत्र पश्चिम के विभिन्न वार्डो में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए अलग-अलग महिला समूह गठित कर प्रत्येक घरों में एक-एक व्यक्ति का सम्पूर्ण प्रारंभिक जाँच करने की शुरुआत की है।

इन इलाकों से हुई शुरूआत

(Raipur) विकास उपाध्याय कोरोना संक्रमित लोगों की संक्रमण के पूर्व पहचान करने हर उम्र के लोगों की प्रारंभिक जाँच को लेकर अपने स्तर पर आज से प्रयास और तेज कर दिये हैं। उन्होंने इसके लिए महिला समूह की टीम बना कर अलग-अलग वार्डों के एक-एक घरों में दस्तक देने समता कॉलोनी, चौबे कॉलोनी और कुकुरबेडा से इसकी आज सुबह से शुरुआत की है। इस महिला टीम में 12-12  सदस्यों को सम्मिलित किया गया है, जो वार्ड में प्रत्येक घरों में जा कर इस बात की प्रारंभिक जाँच करेंगे कि किसी सदस्य को कोरोना के प्रारंभिक लक्षण तो नहीं है।

Bijapur: नक्सलियों की कायराना करतूत, CAF जवान को उतारा मौत के घाट, इस कमेटी ने ली हत्या की जिम्मेदारी

ये समान साथ लेकर चल रही महिलाएं

(Raipur) महिला टीम अपने साथ ऑक्सिमिटर, थर्मामीटर के साथ ही सेनिटाइजर भी साथ लेकर चल रहे हैं, जो संक्रमित पाए जाने वाले घरों को सेनिटाइज भो करेंगे। टीम में महिला सदस्य होने की वजह से गर्भवती महिलाओं को भी जाँच करने सुविधा होगी।घरों में जो बुजुर्ग साधन के अभाव में किसी तरह की जाँच कराने से वंचित हैं, छोटे बच्चे जिनको घर से बाहर ले जाने पालक घबरा रहे हैं उन सभी इस उम्र के लोगों को घर पर ही जाँच करवाने का लाभ मिलेगा।

बढ़ते संक्रमण को रोकने का सबसे अच्छा तरीका

विकास उपाध्याय ने कहा बढ़ते संक्रमण को रोकने का यह सबसे अच्छा तरीका है कि हम इसके पूर्व ही ऐसे व्यक्तियों की पहचान उनके खुद के घरों पर ही कर लें।महिला समूह की ये टीम एक-एक घरों में पूरा वास्तविक डाटा भी तैयार करते जाएगी और जहाँ जरूरत महसूस होगी कि मेडिकल टीम भेजना चाहिए इसकी व्यवस्था भी की जाएगी। जिनको जाँच के बाद लगे कि घर पर ही रहना उपयुक्त होगा उनका मौके पर ही फार्म भरा कर चिन्हित किया जाएगा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button