दंतेवाड़ा (दक्षिण बस्तर)

Surrender: मुंह पर लाल कपड़ा, बैग में 5 किलो का IED बम थाने लेकर पहुंचा 1 लाख का इनामी नक्सली, पुलिसकर्मियों के उड़े होश

दंतेश्वर कुमार@दंतेवाड़ा। (Surrender) जिले में नक्सलियों का आत्मसमर्पण करने का सिलसिला जारी है। आज फिर 1 लाख के इनामी नक्सली ने आत्मसमर्पण किया है। आत्मसमर्पित नक्सली कोसा कवासी जनमिलिशिय का कमांडर था, और टेटम क्षेत्र में सक्रिय था। मुंह पर लाल कपड़ा बांधे कोसा कवासी अपने साथ एक बैग भी लाया था, (Surrender) जिसमें 5 किलो का जिंदा बम (IED) था.

पहली बार कोई नक्सली IED बम लेकर पहुंचा थाने

(Surrender)  पुलिस के मुताबिक अभी तक किसी नक्सली द्वारा बम लेकर थाने आने और सरेंडर करने की कोई बात सामने नहीं आई है. नक्सल प्रभावित इलाकों में इस तरह का यह पहला मामला है.बताया जा रहा है कि नक्सलियों की खोखली विचारधारा और सरकार के लोनू वाराटू अभियान से प्रभावित होकर माओवादी ने आत्मसमर्पण किया है।

Congress: बीजेपी नेताओं के बयानबाजी पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया, कहा- जुमेलबाजी और झूठ फैलाने की राजनीति बंद करे

बैग में 5 किलो का IED बम लेकर थाने पहुंचा नक्सली

दरअसल, नक्सली कोसा कवासी अपने कंधे पर बैग लेकर आज सुबह कुआकोंडा थाने पहुंचा। सीधे थाने के अंदर घुसने लगा. जब तक पुलिस वाले उससे कुछ पूछते. उसने अपना नाम  नक्सली कोसा कवासी बताया। फिर उसने अपने बैग में 5 किलो आईईडी बम की बात पुलिस को बताई है. यह सुनकर थाने में मौजूद पुलिसवालों के होश उड़ गए. नक्सली के आने और उसके हाथों में बम की खबर से अफरा-तफरी मच गई. पुलिसवालों ने तत्काल कोसा को चारों तरफ से घेर लिया और आला अफसरों को इसकी सूचना सूचना दी गई.

अब तक 112 नक्सली कर चुके हैं आत्मसमर्पण

गौरतलब है कि दंतेवाड़ा जिले में  नक्सलियों की खोखली विचारधारा से तंग आकर बहुत से नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है, और समाज के मुख्य धारा से जुड़ रहे हैं। जिले में अब तक 112 नक्सली आत्मसमर्पण कर चुके हैं। जिनमें से 27 इनामी नक्सली शामिल है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button