जगदलपुर

Jagdalpur: अब नक्सलियों को देंगे मुंहतोड़ जवाब… 227 बनें नए आरक्षक…11 माह की कड़ी ट्रेनिंग… बस्तर IG ने दी बधाई

बासकी ठाकुर@जगदलपुर।  (Jagdalpur) जिला पुलिस बल प्रशिक्षण में 11 माह की कड़ी ट्रेनिंग के बाद 227 नव आरक्षक बने इन जवानों का उद्देश है बस्तर में शांति और नक्सलियों का खात्मा। यह सभी 11 माह पहले सातों जिले के नक्सल क्षेत्रों से आए हुए थे पीटीएस द्वारा लगन मेहनत से प्रशिक्षण दिया गया। (Jagdalpur) इन सभी को खाली हाथ एवं शास्त्र के साथ कई प्रतिक्षण दिलाए गए इस सत्र में 117 नव आरक्षक बिल्कुल ही पढ़ने लिखने नहीं जानते थे, यह सभी  बस्तर अंचल के नक्सल प्रभावित क्षेत्र के आए थे।

(Jagdalpur)  आत्मविश्वास बढ़ाकर क्लास के माध्यम से शिक्षित बनाया नक्सल प्रभावित रेज होने से शासन की मंशा के अनुरूप नक्सलियों को मुंहतोड़ जवाब देने बस्तर को नक्सल मुक्त करने हेतु भेजा जाएगा। दिन रात इन नव जवानों को ट्रेनिंग करते हुए भी समय-समय पर नक्सल ऑपरेशन पर भेजा गया।

Chhath Pooja: छठ महापर्व का तीसरा दिन…आज डूबते सुर्य को दिया जाएगा अर्घ्य…जानिए इससे जुड़ी परपंरा?

नक्सलियों के मंसूबों को ध्वस्त करते हुए मार गिराया नक्सलियों को मुख्यधारा में जुड़ने के लिए प्रेरित भी किया नव आरक्षको में कई जवानों की अच्छी कार्य करने से इन्हें पुलिस प्रशासन द्वारा प्रमोट भी किया गया। आज इन सभी जवानों की ट्रेनिंग पूरी हो चुकी है और यह सभी नक्सलियों को मुंहतोड़ जवाब देने तैयार हैं। बस्तर पुलिस अधीक्षक दीपक झा ने सभी जवानों को शपथ दिलाई। वहीं, बस्तर आईजी सुंदर राज पी ने जवानों को बधाई दी।

Bijapur: आईईडी ब्लास्ट….बीडीएस का एक जवान घायल… स्पील्ंटर से आई चोंटे..1 माओवादी को पकड़ने में मिली सफलता

समर्पित नक्सली जोगा ने बताया कि वहां नक्सली संगठन में 2004 से चले गए थे और 2016 में समर्पण किया नक्सलियों की खोपड़ी विचारधारा समझे और समर्पण किया नक्सली जनता को धोखा दे रहे हैं। जंगल की जिंदगी और अभी की जिंदगी में बहुत फर्क है और हमारे चैनल के माध्यम से बाकी नक्सलियों से अपील की है कि समर्पण करें और बेहतर जिंदगी जिए जोगा ने बस्तर पुलिस का धन्यवाद किया।

Koreya: गजराज दल के सामने ग्रामीण व प्रशासन नतमस्तक…जायजा लेने पहुंचे खुद कलेक्टर, हाथियों के प्रस्थान का इतंजार

बस्तर आईजी सुंदरराज पी. ने बताया कि 11 माह की मेहनत से 227 नव आरक्षक जवान बने हैं। बस्तर के सातों जिले के हैं इनमें समर्पित नक्सली भी आरक्षक बने हैं। यह सभी अनुभवी लोग हैं नक्सल क्षेत्र में सभी काम करेंगे और इसका फायदा भी बस्तर पुलिस को मिलेगा बस्तर आईजी सुंदरराज पी ने सभी नव आरक्षको को बधाई दी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button