गरियाबंद

Gariyaband पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी,165 मवेशियों की बचाई जान, 7 आरोपी गिरफ्तार, पहुंचे जेल के सलाखों के पीछे

गरियाबंद। (Gariyaband) जिले में पुलिस की सक्रियता से 165 मवेशियों की आज बच पाई है। इस दौरान पुलिस ने 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।आरेापी के विरूद्ध छत्तीसगढ के कृषिकपशु परिरक्षण अधिनियम 2004 की धारा 4/10, 6/10 के तहत छत्तीसगढ के कृषिक पशुओं को उडीसा व नवरंगपुर की तरफ काटने वध करने के उद्देश्य से ले जाने का अपराध एवं पशुक्रुरता निवारण अधिनियम 1960 की धारा 11 के तहत मर्ग कायम कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक उड़ीसा से आने वाले अवैध धान की धड़ पकड़ के लिए पेट्रोलिंग गस्त पर रवाना हुआ। इसी दौरान पेट्रोलिंग के मुखबिर से सूचना मिली कि कुछ छत्तीसगढ़ से कृषिक पशु उड़ीसा गिरसुल गोहरापदर के रास्ते 165 मवेशियों को उड़ीसा नवरंगपुर के बुचड़खाने ले जा रहे हैं। पुलिस ने इसके लिए टीम तैयार करते हुए तड़के रास्ते में घेराबंदी कर बैठ गया।

Dhamtari: पेड़ काटकर मार्ग सड़क अवरुद्ध करने की कोशिश..नक्सली या शरारती तत्व की करतूत.पुलिस जांच में जुटी

(Gariyaband) इस दौरान पुलिस ने चारों तरफ से घेराबंदी कर सभी 7 आरोपियों को पकड़ लिया। इनके पास से 165 मवेशियों को जब्त किया है। (Gariyaband) जब पुलिस ने मवेशियों से संबंधित कोई दस्तावेज मांगा। तो सातों आरोपी पुलिस के सामने कोई दस्तावेज प्रस्तुत नहीं कर पाए। कार्रवाई करते हुए सातों आरोपियों को न्यायिक रिमांड पर भेज दिया गया है। वहीं सभी पशुओं को पुलिस ने गौशाला भेज दिया है।

Related Articles

23 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button