गरियाबंद

Gariyaband: बूंद-बूंद पानी के लिए संघर्ष कर रहे टोंगसीपारा के ग्रामीण,12 दिनों से गॉव का हैंडपम्प है खराब,नदी में कुआ खोदकर झिरिया से प्यास बुझा रहे ग्रामीण

रवि तिवारी@देवभोग। (Gariyaband) सूरज की बढ़ती तपिस का असर अब बढ़ती गर्मी के साथ दिखने लगा है। अप्रैल महीने में तपने वाली गर्मी में लोग बून्द बून्द पानी के लिए संघर्ष करने को मजबूर हो गए है। वही पानी के लिए ऐसा ही संघर्ष इन दिनों टोंगसीपारा के ग्रामीण कर रहे है। (Gariyaband)गॉव का एक मात्र हैंडपम्प पिछले 12 दिनों से खराब पड़ा है। वही हैंडपम्प खराब होने से टोंगसीपारा के 300 ग्रामीण नदी में कुआ खोदकर झिरिया से प्यास बुझाने को मजबूर हो गए है।(Gariyaband) वही ग्रामीणों को अपनी प्यास बुझाने के लिए अलसुबह नदी पहुँचकर झिरिया खोदकर पानी लाना पड़ रहा है। गॉव की महिलाओं की मॉने तो झिरिया का पानी भी साफ नही है लेकिन मज़बूरिवस उन्हें इसी पानी से अपना प्यास बुझाना पड़ रहा है।

एक किलोमीटर दूर से पानी लेकर  पहुँचती है महिलाएं

गॉव की सरपंच प्रमिला बीसी और पूर्व सरपंच दयाराम बीसी की माने तो हैंडपम्प खराब होने के कारण गॉव की पूरी महिलाएं अलसुबह से ही नदी किनारे पहुँच जाती है। इसके बाद कुआ खोदकर झिरिया से पानी भरकर एक किलोमीटर का सफर तय कर पानी लेकर पहुँचती है। गॉव की महिलाओं की मॉने तो उन्हें पिछले 12 दिनों से बून्द बून्द पानी के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। वही 12 दिनों से हैंडपम्प खराब होने के कारण ग्रामीणों का गुस्सा भी बढ़ता जा रहा है।

मुख्यमंत्री को फ़ोटो के साथ ज्ञापन भेजेंगे ज्ञापन

गॉव के पूर्व सरपंच दयाराम बीसी ने बताया कि 12 दिनों से ग्रामीण नदी का पानी पीकर प्यास बुझा रहे है। ऐसे में ग्रामीण बहुत ज्यादा परेशान हो चुके है। दयाराम के मुताबिक मामले की जानकारी अब वे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल तक देंगे। दया के मुताबिक सीएम बघेल को ज्ञापन और फ़ोटो प्रेषित कर उन्हें बताया जाएगा कि ग्रामीण बून्द बून्द पानी के लिए किस तरह संघर्ष करके जिंदगी जी रहे है। दया ने बताया कि पहले ग्रामीणों का प्रतिनिधिमंडल एसडीएम और सम्बंधित विभाग से मिलकर वस्तु स्थिति से अवगत करवाएगा। इसके बाद भी यदि उचित कार्रवाई नही की गई तो इसके बाद अंतिम स्थिति में सीएम को ज्ञापन और फ़ोटो भेजा जाएगा।

मामले में क्रेडा के जेई कैलास मार्कण्डेय ने कहा कि ग्रामीणों की समस्या को हल करना हमारी जिम्मेदारी है। वही हैंडपम्प में सोलर मोटर लगे होने की जानकारी आपके माध्यम से मिली है।मैं टीम भेजकर वस्तु स्थिति की जानकारी लेकर जल्द ही उचित कदम उठाऊंगा।

वही पीएचई के एसडीओ अरुण कुमार भार्गव ने कहा कि मामले की वे जानकारी लेंगे और हैंडपम्प का सुधार कार्य तुरंत करवाया जाएगा।

Related Articles

One Comment

  1. I was curious if you ever thought of changing the structure of your website?
    Its very well written; I love what youve got to say.
    But maybe you could a little more in the way of content so
    people could connect with it better. Youve got an awful lot of text for
    only having one or two images. Maybe you could space it out better?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button