Uncategorized

Raipur: संसदीय सचिव ने कहा- राजेश मूणत की शह पर राजधानी में फल-फूल रहा नशा और सट्‌टे का कारोबार

रायपुर । (Raipur) संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने पूर्व मंत्री राजेश मूणत के सरकार पर लगाए आरोप और टेण्डर के सीमा अवधि में हेर-फेर कर करोड़ों के भ्रष्टाचार के बहस की बात पर पलटवार करते हुए कहा कि मैं इसके लिए हर मोर्चे पर तैयार हूँ, बल्कि राजेश मूणत को इसके लिए भलि-भाँति तैयारी कर लेनी चाहिए, इसलिए कि 15 वर्षों के भ्रष्टाचार की बातें उन्हें ठीक-ठीक याद न हों। (Raipur)विकास उपाध्याय ने कानून व्यवस्था को लेकर मूणत के बयान पर कहा, भूपेश सरकार में कानून व्यवस्था की कड़ाई की वजह से ही तत्कालीन सरकार के दौर में फले-फूले ड्रग्स माफियाओं की पोल आज खुल रही है।

Chhattisgarh: हाईकोर्ट का आदेश, आगामी आदेश तक स्थगित हुई मुख्य परीक्षा, परीक्षार्थियों को मिली राहत

(Raipur)संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने पूर्व मंत्री राजेश मूणत पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा राजधानी रायपुर में उनके सह पर ही तत्कालीन सरकार के दौर में ड्रग्स और गांजे का कारोबार पनपा। हमारी सरकार में जब इस बात की खुफिया रिपोर्ट की जानकारी मिली तो मैंनें खुद पुलिस विभाग के आला अधिकारियों से इस धंधे में लिप्त ठिकानों पर छापेमारी की कार्यवाही तेज करने के निर्देश दिये थे। उन्होंने कहा भूपेश सरकार में ड्रग्स माफियाओं और आपराधिक तत्वों के लिए कोई स्थान नहीं है, बल्कि राजेश मूणत के संरक्षण में 15 सालों तक नशा और सट्टे का कारोबार बेखौफ चलते रहा। यही वजह है कि इस दौरान पुलिस द्वारा किसी के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गई। उन्होंने इस बात को राजनैतिक बयान की दृष्टि से न लेने की बात कहकर स्पष्ट किया कि ड्रग्स धंधे में गिरफ्तार हुए लोगों के बयानों से जो नाम आ रहे हैं वे चैंकाने वाले हैं। उन्होंने इस बात का खुलासा बहुत जल्द करने की बात कहकर भाजपा के कई नेताओं के नाम आने के संकेत दिये हैं।

Drugs Case: पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, भिलाई से 1 युवती अरेस्ट, अब तक हो चुकी है कई गिरफ्तारियां

विकास उपाध्याय ने कहा देश भर में अनाचार के हो रहे घटनाओं को राजनैतिक चश्में से नहीं देखना चाहिए। आज यह अपराध समय के साथ बढ़ते जा रहा है और यदि इस पर अंकुश लगाना है, तो अपने परिवारों में ही पहले सामाजिक चेतना को लाना पड़ेगा। घर के माता-पिता को अपने बच्चों को ऐसे संस्कार देने होंगे कि इस तरह के अपराध करने से भी वे सौ बार सोचने मजबूर हों। विकास उपाध्याय ने आगे कहा प्रदेश में घटित आपराधिक घटनाओं के लिए काफी हद तक पूर्ववर्ती सरकार की नाकामियों की वजह से है, जो छ.ग. के युवा बेरोजगारों को सही सीमावधि में रोजगार दे न सकी। आज वही लोग अपराध के रास्ते पर हैं। उन्होंने मूणत के लचर प्रशासनिक व्यवस्था पर उठाये सवाल पर करारा जवाब देते हुए कहा भूपेश सरकार में एकमात्र मुख्यमंत्री का पद है, यहां कोई सुपर सीएम की भूमिका में नहीं है। जबकि पूर्ववर्ती सरकार में सीएम की भूमिका में कई मातहत अधिकारी संविदा पर काम कर रहे थे। ऐसे में हमारी सरकार में प्रशासनिक व्यवस्था को लेकर उंगली उठाना साफ बेईमानी है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर पूरी प्रशासनिक अमला मुस्तैदी से काम कर रही है।

विकास उपाध्याय ने जय स्तंभ चैंक पर घटित चाकूबाजी की घटना को बेहद ही चिंताजनक बताते हुए कहा अपराधियों को ऐसी वारदात करने बाज आना चाहिए। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि घटना के आरोपी कुछ ही घंटों में पकड़े गए यह रायपुर पुलिस की सजगता है। राजेश मूणत द्वारा खुली बहस पर कहा कि वे यह बहस किसी मंच से नहीं वे राजेश मूणत के कार्यकाल में हुए भ्रष्टाचार की हर उस निर्माण कार्य के क्षेत्र में आम जनता के समक्ष खुले मैदान में बहस करेंगे और आम जनता को बताएंगे कि राजेश मूणत ने 15 साल तक जनता के साथ कैसे धोखा किया। मूणत पर तंज कसते हुए विकास ने कहा समय रहते इस बात की वे भली-भाँति तैयारी कर लें, इसलिए कि 15 वर्षों तक कहाँ-कहाँ से उनको कमिशन मिला। शायद यह बात याद भी न हो।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button