बलौदाबाजार

Disclosure:  पुलिस ने जमकर बहाए पसीने, तब जाकर हाथ लगे अंतरराज्यीय गिरोह, चोरी की ऐसी तरकीब जिसे सुनकर आप भी रह जाएंगे दंग

अमृत साहू@बलौदाबाजार. (Disclosure) पुलिस ने एक अंतरराज्यीय चोर गिरोह का पर्दाफाश किया है।

ये गिरोह लगातार फिल्मी स्टाइल में चोरी की वारदातों को अंजाम दे रहे थे।

लंबे समय के बाद आखिरकार पुलिस की टीम को एक बड़ी सफलता मिली है।

हरियाणा से सभी आरोपी

(Disclosure)आपको बता दे कि इस गिरोह के सभी आरोपी हरियाणा राज्य के हैं।

(Disclosure)जो लगातार छत्तीसगढ़, ओडिसा समेत आस पास के राज्यों में चोरी की बडी वारदातों को अंजाम दे रहे थें।

मूवमेंट के मद्देनजर बलौदाबाजार पुलिस अधीक्षक ने पड़ताल शुरू की. जिसके बाद महासमुंद के सराईपाली से सातों

आरोपियों को  गिरफ्तार किया गया।

इनके चोरी करने के तरीका बिल्कुल फिल्मी स्टाइल की तरह है।

ये सभी कंटेनर में सवार होकर जाते थे. कंटेनर के अंदर रखी दूसरी गाड़ी से वारदात को अंजाम देते थे।

37 जगहों के 200 सीसीटीवी फुटेज को पुलिस ने खंगाला

रायपुर आईजी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में मामले का खुलासा करते हुए बताया की इस गिरोह को पकड़ने के लिए पुलिस ने करीब

37 जगहों के करीब 200 सीसीटीवी फुटेज को खंगाला गया.

68 से अधिक बार इसको बारीकी से जांच की गई।

जहां ये गिरोह घटना को अंजाम दे चुके थे.

ऐसे चार महत्वपूर्ण पॉइंट में बारीकी से तपतिश करके घटना में प्रयुक्त आई 20 कार और कंटेनर का पहचान कर लिया गया।

पूर्व में हुई ऐसी वारदातों से भी सुराग निकाले गए तथा घटना स्थल के 200 मीटर के दायरे में पड़ने वाले होटल,टोल

प्लाजा,लॉज आदि की जांच की गई.

जिसके बाद इस गिरोह को पुलिस की स्पेशल टीम ने महासमुंद के सराईपाली में धड़दबोचा।

आरोपियों के पास से बरामद हुए सामान

आरोपियों के पास से एक देशी कट्टा, धारदार चाकू,डेटोनेटर व फ्यूज वायर,जेलेटिन रॉड,

गैस कटर,आक्सीजन सिलेंडर,एलपीजी सिलेंडर,स्प्रे पेंट,टायर लिवर रॉड,

ग्लव्ज,पेशकश,पाना,सिलेंडर चाबी,वायर कटर,घटना के समय पहने लोवर,5 मोबाइल समेत नगदी 22 लाख जब्त किया गया है।

इन फिल्मों को देखकर देते थे चोरी की वारदात को अंजाम

यूट्यूब और हाल ही में  आई फिल्म साहो के तर्ज पर इस गिरोह ने घटना को अंजाम दिया है।

इनके द्वारा हरियाणा से कंटेनर में आई 20 कार को लोडकर लाए थे.

कंटेनर को वारदात वाली जगह से 20 से 30 किलोमीटर दूर रखते थे।

जिस एटीएम में चोरी करनी होती थी.

वहां की अच्छे से रेकी करने के बाद गैस कटर एटीएम को काटकर ले उड़ते थे।

इन राज्यों में थे सक्रिय

ये गिरोह छतीसगढ़ के साथ साथ ओडिसा व आसपास के राज्यो में अनगिनत घटना क्रमो में शामिल रहे हैं

तथा इनके नाम हरियाणा के निवास स्थान अंतर्गत थाने में भी अपराध कायम है।

इस गिरोह का मास्टरमाइंड अमर अली के साथ अन्य छः आरोपी जिनके नाम- हैदर अली,तारीफ खान,मोहम्मद चवन्नी,मुन्फैद,

अमानत,आजाद नामक आरोपी शामिल है जिनकी उम्र 28 से 30 साल बताई जा रही है।

रायपुर आईजी आनंद छाबड़ा ने इस घटना को सुलझाने में जिन पुलिस कर्मियों का सहयोग रहा उनकी सराहना की तथा

50 हजार रुपए सम्मान राशि भी प्रदान की गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button