धमतरी

Dhamtari: बड़ा शातिर है ये गिरोह, ऐसे देता था चोरी की वारदात को अंजाम, अब खुला पोल

संदेश गुप्ता@धमतरी। (Dhamtari) कोतवाली पुलिस ने कुख्यात शटर कटवा घोड़ा सहन गिरोह का पर्दाफाश किया है। बीते 19 दिसम्बर को गिरोह ने शहर के मोबाइल दुकान से 20 लाख की चोरी की थी। (Dhamtari) ये बेहद शातिर गिरोह चोरी का सारा माल नेपाल में खपा देता है।

Jagdalpur: आबकारी सहायक आयुक्त का निधन, हार्ट अटैक से हुई मौत, 2018 से थे पदस्थ

(Dhamtari) बिहार के नेपाल सीमा स्थित घोड़ा सहन के शटर कटवा गिरोह के सरगना सहित 7 सदस्यों को अलग अलग जगह से पकड़ कर लाया गया, गिरोह के कब्जे से चोरी के 89 हज़ार नगद और मोबाइल बरामद किए गए हैं, छत्तीसगढ़ में ये गिरोह पहली बार पुलिस के हाथ लगा है ये एक बड़ी कामयाबी धमतरी पुलिस को मिली है, पुलिस ने बताया कि नेपाल सीमा पर स्थित घोड़ा सहन गाँव मे बड़ी संख्या में लोग चोरी और सेंधमारी गिरोह चलाते हैं, जो देश भर में वारदात करते रहते है, चोरी का सारा माल ये गिरोह अपने नेटवर्क से नेपाल भेज देता है,

दुकानों का शटर खोलने में माहिर ये गिरोह आपने साथ ज्यादा उम्र के लोगो को रखता है जिससे किसी पर आसानी से शक न हो, ये चंद मिनटों के अंदर ही दुकान का शटर खोल कर माल पार करने में माहिर है, ये जाड़ो में ही ज्यादा वारदात करते हैं, एसपी धमतरी ने बताया कि ये आपस मे कोड वर्ड में बात करते हैं, मसलन पुलिस को मास्टर बुलाते है, अपने सरगना को मालिक, शटर तोड़ने वाले को पहलवान और दुकान से माल निकालने वाले को प्लेयर कहते हैं।

 19 दिसम्बर की रात धमतरी के विकास मोबाइल से इस गिरोह ने 20 लाख का माल पार कर दिया, इसके बाद से ही पुलिस पर खुलासे के दबाव बन गया था, एसपी राज भानु ने इस मामले को खोलने अलग टीम बनाई और इनाम की भी घोषणा की, टीम में निरीक्षक नवनीत पाटिल, एसआई रमेश साहू और आरक्षक राकेश मिश्रा जैसे अनुभवी और तेज तर्रार लोगो को रखा गया, जो लंबे समय तक क्राइम ब्रांच में काम कर चुके हैं, और कई अंतरराज्यीय गिरोह को पकड़ने का अनुभव रखते है, इसी टीम ने एक बार फिर शानदार काम करते हुए इस कुख्यात गिरोह को दबोच लिया, अब पुलिस चोरी का बाकी माल बरामद करने नेपाल तक अपनी टीम भेजने की तैयारी में है

Related Articles

73 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button