धमतरी

Dhamtari: कबाड़ से जुगाड़….इस 9 वीं पास युवक के सामने मैकेनिकल इंजीनियर भी फेल, कर दिखाया ऐसा कारनामा….जिसे देख आप बोलेगे OH MY GOD!

संदेश गुप्ता@धमतरी। (Dhamtari) कहते है हुनर और जुनून हो तो कामयाबी मिलने से कोई नही रोक सकता। धमतरी में एक 9 वीं पास लड़के ने अपनी पसंद की बाइक बना डाली। वो भी कबाड़ और जुगाड़ से। पुरानी कहावत है कही का ईंट कही का रोड़ा भानुमति ने कुनबा जोड़ा.. (Dhamtari) कुछ इसी तर्ज पर 5 गाड़ियों के पार्ट्स मिला कर एक नई तरह की बाइक बन गई.. (Dhamtari)  और ये कमाल करने वाला कोई मैकेनिकल इंजीनियरिंग का डिग्री होल्डर नही है। बल्कि एक 9 वीं पास लड़का है। वो भी गांव में रहने वाला।

हम यहाँ जिसकी बात कर रहे हैं। उसका नाम है सैय्यद सैफ। जो धमतरी जिले के मगरलोड ब्लॉक के सिंगपुर गांव में रहते हैं। इनके पिता साइकल मैकेनिक थे। सैफ के मन ज्यादा दिनों तक पढ़ाई में नही लगा, और वो अपने पिता के साथ ही मैकेनिक का काम सीखने लगा। सीखते-सीखते आज सैफ अपने काम मे मास्टर बन गया है। उसकी मास्टरी का सबूत वो बाइक है जिसे देखते ही रास्ता चलते लोग मुड़ कर आते हैं और बाइक को देख कर सवाल करते हैं कि ये कैसे बनाई..?

हमने भी जब बाइक देखा तो रहा न गया मुड़ कर गए और जिज्ञासा शांत करने सवाल दागने लगे तो पता चला कि, इसमे सुजुकी का इंजन, यामाहा की बॉडी, स्कूटर के चक्के लगे हैं इस तरह ये 5 गाड़ियों का मेल है। इसे बनाने के लिए सैफ ने न कोई ट्रेनिंग ली। न किसी उस्ताद की मदद, सब कुछ खुद से कर लिया। सैफ बताते है कि उन्हें इस तरह के अनोखे बाइक बनाने का जुनून है, इस बाइक को काफी लोग खरीदना चाहते हैं।

Related Articles

2 Comments

  1. I think other web-site proprietors should take this site as an model, very clean and wonderful user friendly style and design, let alone the content. You are an expert in this topic!

  2. Along with every little thing which seems to be developing throughout this specific subject material, all your opinions are generally somewhat refreshing. Even so, I am sorry, but I can not give credence to your entire strategy, all be it exhilarating none the less. It appears to everyone that your commentary are generally not totally rationalized and in reality you are your self not really thoroughly convinced of the point. In any event I did appreciate reading through it.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button