धमतरी

Dhamtari: दो पक्षों के बीच हुई मारपीट..समझाइश देने पहुंचा आरक्षक पर हुआ उल्टा हमला.. बुरी तरह घायल..मगर चार दिन बाद हुआ एफआईआर..आखिर क्यों

संदेश गुप्ता@धमतरी। (Dhamtari)  लोगों की सुरक्षा में लगे पुलिस के जवान ही अब असुरक्षित महसूस करने लगे हैं। ऐसा ही एक मामला रूद्री थाना क्षेत्र के अंतर्गत गंगरेल में सामने आया है। जहां पर मारपीट कर रहे लोगों को समझाइश देने पहुंचे आरक्षक के साथ ही मारपीट की गई, (Dhamtari)  और उसकी वर्दी को फाड़ दिया गया। विडंबना यह है कि जिस थाने में वह पदस्थ है उसी थाने में 4 दिन बाद उसकी एफआईआर दर्ज हुई है।

(Dhamtari)  कृपानिधि गजेन्द्र थाना सिविल लाईन रूद्री मे आरक्षक के पद पर पदस्थ है। उन्होंने रिपोर्ट दर्ज कराई  कि 15 जनवरी को थाने से 2 से 6 बजे तक आर. देवशोरी एवं महिला आर. सरला तिवारी एवं  महिला आर. जागृति शर्मा की भी  ड्युटी लगी थी।    बेरियर गेट पर ड्युटी मे लगे गार्ड ने लगभग 4 बजे के लगभग पुलिस सहायता केन्द्र मे आकर बताया कि रेस्ट हाउस के  सामने लड़ाई झगडा मारपीट हो रहा है। भीड़ लग गई है। तब उसका साथी ड्युटी मे तैनात आर. देवशोरी के साथ मेरे मोटर सायकल में गये। हमारे पीछे से महिला  आर. सरला तिवारी भी पहुंची। बीच बचाव करने लगे।  एक पक्ष को शांत कराने के बाद वहां उपस्थित सतवंत उर्फ सत्तू  महिलांग एवं उनके  साथी के मुंह से शराब की बदबू आ रही थी ।

Bilaspur: जावेद मेमन होंगे नए ब्लाक अध्यक्ष,आज से नियुक्ति, विधायक के साथ हुए विवाद के बाद तैय्यब हुसैन निष्कासित

सभी गंगरेल के निवासी थे। जो छुड़ाने पर गालीगलौच और धक्कामुक्की देने लगे। किया जिससे  वर्दी फट गई। जैसे तैसे जान बचाकर आरक्षक पुलिस सहायता केंद्र पहुंचा। कृपानिधि गजेंद्र की रिपोर्ट पर आरोपी सतवंत सिंह महिला और उनके दो साथी के खिलाफ रुद्री थाना में धारा 186 294 323 332 34 353 और 506 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है। इस संबंध में रुद्री थाना प्रभारी युगल किशोर नाग ने बताया कि रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जा रही है,अभी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button