जांजगीर-चांपा

Ambikapur: शिक्षाकर्मी भर्ती में हो रही देरी! अब ABVP ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन, की ये मांग

शिव शंकर साहनी@अंबिकापुर। (Ambikapur) आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद छत्तीसगढ़ के आवाह्न पर मुख्यमंत्री के नाम सरगुजा  जिले के कलेक्टर  संजीव कुमार झा को ज्ञापन सौंपा गया है। जिसमें 14580 पदों पर शिक्षाकर्मियों की भर्ती होने वाली है। लेकिन देरी को लेकर एबीबीपी ने मुख्यमंत्री ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में निम्न बातों को सम्मलित किया गया है..

1) (Ambikapur)इस व्याख्याता भर्ती परीक्षा के परिणामों की वैधता 30 सितंबर को खत्म होने से पहले पदस्थापना क्यों नहीं की जा रही है?

2) (Ambikapur)छत्तीसगढ़ के सभी स्कूलों में विषय विशेषज्ञ शिक्षकों की भारी कमी होने के कारण नियुक्ति शीघ्रातिशीघ्र की जानी चाहिए थी फिर भी पदस्थापना में इतना विलम्ब क्यों किया जा रहा है?

3) सरकार कोरोना काल में अन्य सभी कार्य कर रही है, जैसे-जिसमें संविदा शिक्षकों की भर्ती, संविलियन, स्थानांतरण आदि तो इनके के साथ-साथ शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया भी आगे पूरी क्यों नहीं की जा रही है? और शिक्षक भर्ती के विषय पर ही आर्थिक संकट का बहाना क्यों, जबकि इसे पिछले सत्र के बजट में ही शासन द्वारा स्वीकृत किया जा चुका है?

5) नियमित शिक्षकों को न लेकर समान वेतन पर ही संविदा भर्ती क्यों? क्या इनके लिए कोरोना संकट नहीं है?

Corona: 92 साल के बुजुर्ग की मौत, कोरोना से हार गए जिंदगी की जंग, स्वास्थ्य विभाग ने की पुष्टि

अतः अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद आपसे आग्रह करती है कि आप शिक्षक-अभ्यर्थियों और विद्यार्थियों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए शिक्षक भर्ती 2019 की पदस्थापना संबंधी इस प्रक्रिया को शीघ्रातिशीघ्र आगे बढ़ाने के लिए यथोचित निर्णय लेंगे, अन्यथा परिषद् आन्दोलन हेतु सन्नद्ध है। ज्ञापन सौपने मे नगर मंत्री अतीस पाण्डेय, प्रदेश कार्यकारणी सदस्य अश्विनी चौबे, निखिल मरावी, वर्षा गुप्ता, अविनाश मण्डल.. व अन्य कार्यकर्त्ता उपस्थित रहे…

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button