देश - विदेश

Corona Vaccine: फिर लगा लोगों को झटका, रुसी कोरोना वैक्सीन पर आई बड़ी खबर, दिख रहे साइड इफेक्ट, भारत भी आनी है करोड़ो डोज

नई दिल्ली। (Corona Vaccine) रुस की कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक 5 एक बार फिर सवालों के घेरे में  हैं. जानकारी मिल रही है कि जिन 7 लोगों ने वैक्सीन लिया है. उन पर इसका साइड इफेक्ट देखा जा रहा है. इस बात का खुलासा स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराश्को ने किया है. 

14 फीसदी लोगों में इसका साइड इफेक्ट

मुराश्को अपने एक बयान में कहा कि वैक्सीन लेने वाले करीब 14 फीसदी लोगों में इसके साइड इफेक्ट देखे गए हैं.

कोरोना वायरस की वैक्सीन लेने के बाद हर सात व्यक्तियों को कमजोरी और मांसपेशियों में दर्द जैसे साइड इफेक्ट की शिकायत की. हालांकि मुराश्को का कहना है कि इन साइड इफेक्ट के मामले की पहले से ही जानकारी थी और ये अगले दिन ही ठीक हो गए थे.

शुरूआती नतीजे 4 सितंबर को हुए थे जारी

(Corona Vaccine) इस वैक्सीन के क्लिनिकल ट्रायल के शुरूआती नतीजे 4 सितंबर को द लैंसेट जर्नल में प्रकाशित किए गए थे. 76 लोगों को ये वैक्सीन दो भाग में दी गई थी. नतीजों में पाया गया कि Sputnik V पूरी तरह सुरक्षित है और  21 दिनों में वॉलंटियर्स के शरीर में इससे बिना किसी गंभीर साइड इफेक्ट के एंटीबॉडी बनी है.

Bijapur: नक्सलियों की कायराना करतूत, CAF जवान को उतारा मौत के घाट, इस कमेटी ने ली हत्या की जिम्मेदारी

हालांकि, ‘द लैंसेट’ में वैक्सीन के साइड इफेक्ट के बारे में भी बताया गया था. इसके अनुसार, साइड इफेक्ट में 58 फीसदी लोगों नें इंजेक्शन लगाने वाली जगह पर दर्द की शिकायत की. वहीं 50 फीसदी लोगों ने तेज बुखार, 42 फीसदी लोगों ने सिर दर्द, 28 फीसदी लोगों ने कमजोरी और 24 फीसदी लोगों ने मांसपेशियों में दर्द की शिकायत की थी.

58 फीसद लोगो को इंजेक्शन लगाने से कई जगह पर दर्द की शिकायत

(Corona Vaccine) हालांकि, ‘द लैंसेट’ में वैक्सीन के साइड इफेक्ट के बारे में भी बताया गया था. इसके अनुसार, साइड इफेक्ट में 58 फीसदी लोगों नें इंजेक्शन लगाने वाली जगह पर दर्द की शिकायत की. वहीं 50 फीसदी लोगों ने तेज बुखार, 42 फीसदी लोगों ने सिर दर्द, 28 फीसदी लोगों ने कमजोरी और 24 फीसदी लोगों ने मांसपेशियों में दर्द की शिकायत की थी.

डॉ रेड्‌डी से 10 करोड़ वैक्सीन डोज बनाने के करार

भारत के लोगों के लिए भी रूस की वैक्सीन को लेकर बातचीत जारी है. वहीं कुछ दिनों पहले रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड  (RDIF) ने भारतीय कंपनी डॉक्टर रेड्डी को 10 करोड़ वैक्सीन डोज देने के लिए करार साइन किया है.

वैक्सीन सप्लाई की ये प्रक्रिया ट्रायल पूरा होने के बाद साल के अंत तक शुरू की जाएगी. इस वैक्सीन को मंजूरी देने से पहले भारत में भी लोगों पर इसका क्लिनिकल ट्रायल किया जाएगा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button