जांजगीर-चांपा

Corona: 2 डॉक्टर संक्रमित, स्टाफ की कमी, मगर नहीं मानी हार, अब कोरोना योद्धाओं की लीडर बनी ये डॉक्टर

जांजगीर चाम्पा। (Corona) जिले का मालखरौदा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हमेशा सुर्खियों में रहता है और सुर्खियों में रहने का वजह भी बेवजह है. लेकिन आज हम आपको कोरोना काल में डटकर कोरोना को मात देने के लिए तैयार यहां के कोरोना योद्धाओं की लीडर BMO डॉ कात्यायनी सिंह   जिनके ऊपर न जाने कितने बेबुनियाद आरोप लगे लेकिन आरोपों को दरकिनार कर मानव सेवा में समर्पित  होकर कोरोना को मात देने में जुटी है.उनका साथ दे रहे है उनकी स्वास्थ्य विभाग की  पूरी टीम जो हर मोर्चा को संभालने के तैयार है. 

(Corona)दरअसल में असामाजिक तत्वों द्वारा अस्पताल और डॉक्टर की छवि को बदनाम करने की नियत से लगातार सोशल मीडिया में दुष्प्रचार करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. लेकिन कोरोना काल की विपदा की इस घड़ी में डॉ कात्यानी सिंह एक साथ कई दायित्वों का निर्वाहन कर रही है . (Corona)एक ओर माँ की ममता क्योंकि डॉ कात्यायनी सिंह के दो छोटे छोटे बच्चे है उनकी जिम्मेदारी तो दूसरी ओर खंड चिकित्सा अधिकारी के रूप क्षेत्र स्वास्थ्य सुविधा की जिम्मेदारी वहीं अस्पताल में पदस्थ दो चिकित्सक कोरोना संक्रमित होने के कारण वो दोनों होम आइसोलेशन में है. जिसकी वजह से मालखरौदा सामुदायिक स्वास्थ्य के चिकित्सक की कमी है मगर डॉ कात्यायनी सिंह दिन रात सेवा देकर उस कमी को भी पूरा कर रही है.

Chhattisgarh: 14 को एमएसपी अधिकार दिवस मनाएगी किसान सभा

कोरोना काल मे कोरोना को मात देने के लिए तैयार है यहां की टीम

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए यहां की टीम पूरी तरीके के साथ तैयार है. वही डॉक्टर कात्यायनी सिंह बताती है कि मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी व उच्च अधिकारियों के मार्गदर्शन में उनकी पूरी टीम काम कर रही है.साथ ही साथ क्षेत्र के लोगो और जनप्रतिनिधियों के भी सहयोग मिल रहा है और सभी के सहयोग से कोरोना को हम जल्द ही मात दे देंगें.साथ ही साथ उन्होंने लोगो से ये अपील भी की है कि वो कोविड 19 के लिए जारी गाइडलाइंस का पालन करें मास्क का उपयोग करे , सोशल डिस्टेंसिग का पालन करें, हाथ को बार बार धोएं इन सभी को अपनाकर हम कोरोना की जंग से जीत सकते हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button