छत्तीसगढ़

Chhattisgarh: विवादों से घिरे रहे हैं ये IAS, पहले भी एसीबी ने ट्रैप किया था ….अब हीरो बनने के चक्कर में ज़ीरो हो गए

रायपुर।  (Chhattisgarh) थप्पड़ मार कलेक्टर जी हां सूरजपुर कलेक्टर रणवीर शर्मा…जो कि अब वर्तमान में जिले के कलेक्टर पद से हटा दिया गया है, 13 साल के बच्चे को जो कि कोरोना टेस्ट के लिए जा रहा था। उसे सरेराह कलेक्टर ने पहले थप्पड़ जड़ा. फिर उसके मोबाइल को तोड़ दिया। जिसके बाद वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ. और कलेक्टर साहब की काफी आलोचना भी हुई। मगर कलेक्टर का विवादों से काफी पुराना नाता है. जिन्हें कुछ साल पहले रिश्वतखोरी में एंटी करप्शन ब्यूरो ने रंगे हाथ गिरफ्तार किया था.

मामला 2015 का है। 2012 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी रणवीर शर्मा भानुप्रतापपुर में एसडीएम के रूप में काम करके चर्चा में आए थे. पटवारी से 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए इन्हें रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया था. यह कार्रवाई एंटी करप्शन ब्यूरो द्वारा की गई थी. जिसके बाद इन्हें पद से हटा दिया गया था.  घटना के बाद रायपुर में अपर सचिव मंत्रालय के रूप में स्थानांतरित किया गया था

जमीन की खरीद-फरोख्त मामले में जांच रोकन के एवज में घूस की मांग

भानुप्रतापपुर एसडीएम रहते हुए एक जमीन की खरीद फरोख्त का मामला सामने आया था। इस दौरान एसडीएम के पद पर अपनी सेवा दे रहे रणवीर शर्मा ने जांच रोकने और कार्रवाई नहीं करने के लिए घूस की मांग की थी. पटवारी सुधीर लकड़ा ने इसकी शिकायत एंटी करप्शन ब्यूरो में कर दी थी. इसके बाद ब्यूरो की टीम ने रणनीति के तहत एसडीएम रणबीर शर्मा को उनके चेंबर में घूस लेते पकड़ा था.              

अब थप्पड़मार कलेक्टर बनें रणवीर शर्मा

फिलहाल सूरजपुर कलेक्टर रणवीर शर्मा ने 13 साल के मासूम के साथ बदसलूकी की. वो बार-बार बोलता रहा मैं चेक कराने जा रहा हूं, लेकिन कलेक्टर उसकी बातों को माने ही नहीं….और पुलिसकर्मियों को बच्चे को मारने का निर्देश दे दिया…इस दौरान सोशल मीडिया में वायरल वीडियो में साफ-साफ दिख रहा है कि कलेक्टर ने बच्चे के हाथ से मोबाइल छीना फिर उसके जोरदार तमाचा मारा.

सोशल मीडिया पर वायरल होते ही आलोचन की बाढ़

एक यूजर्स ने ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. जिसके बाद सोशल मीडिया पर कलेक्टर की खूब आलोचना हुई. यूजर्स ने भी लिखा कि ये सख्ती नहीं शक्ति का प्रदर्शन है।

वीडियो जारी कर रणबीर शर्मा ने मांगी माफी

हालांकि, थप्पड़ मारने के बाद एक वीडियो जारी कर रणबीर शर्मा ने माफी भी मांगी. रणबीर शर्मा को तत्काल प्रभाव से हटाने के बाद अब रायपुर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी गौरव कुमार सिंह को सूरजपुर का नया कलेक्टर बनाया गया है. इस संबंध में राज्य सरकार ने आदेश जारी किया है. रणबीर शर्मा को मंत्रालय में संयुक्त सचिव के पद पर भेज दिया गया है.

हीरो बनने के चक्कर में बन गए जीरो

कई बार फिल्मों में एक्टर्स की भूमिक दंबग किरदार की होती है. जिसका अनुसरण असल जीवन के प्रशासनिक अधिकारी भी करने लगते हैं, लेकिन इन्हें ये पता नहीं होता कि ये गर्म लोहे पर हाथ मार लिए हैं….और फिर लग जाती है इनकी क्लास। कुछ ऐसी ही भूमिका में सूरजपुर कलेक्टर भी नजर आए। दंबग बनने के चक्कर में आज उनकी सूरजपुर से विदाई हो गई। यहां तक कि आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा। शासन ने सख्त कदम उठाया जिसkr काफी प्रशंसा भी हो रही है। लेकिन कई लोग कार्रवाई की भी मांग कर रहे हैं। जिससे आगे से कोई प्रशासनिक अधिकारी अपनी पद का गलत फायदा न उठाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button