Chhattisgarh

Chhattisgarh: टॉप ब्यूरोक्रैट्स में शामिल छत्तीसगढ़ के दो आईपीएस अधिकारी, बने मिसाल

रायपुर। (Chhattisgarh) छत्तीसगढ़ के दो आईपीएस अधिकारियों का नाम टॉप ब्यूरोक्रैट्स में शामिल है। देश के अलग- अलग राज्यों से 20 आईएएस और आईपीएस अधिकारियों का नाम जारी हुआ था। जिनमें सीनियर आईपीएसफ दीपांशु काबरा और रायगढ़ के एसपी संतोष सिंह देशभर के अफसरों के बीच चर्चा में हैं।(Chhattisgarh)  ब्यूरोक्रैट्स इंडिया नाम की राष्ट्रीय स्तर की संस्था ने इन्हें गुड गवंर्नेंस की मिसाल बताते हुए लिस्ट में जगह दी है।

(Chhattisgarh) कोरोना काल में सीनियर आईपीएस दीपांशु काबरा ने लोगों की हर संभव मदद की। जब लोगों के पास खाने को ना रोटी थी और ना ही अपने घर तक पहुंचने का कोई  साधन तब आईपीएस दीपांशु काबरा ने लोगों को राहत पहुंचाया।  

देश के कोने-कोने में फंसे छात्र और मजदूरों ने जब ट्वीटर के जरिए दीपांशु काबरा से संपर्क करने की कोशिश की। तब उन्होंने जवाब देते हुए हर संभव मदद की। साथ ही कोरोना को लेकर फेकर न्यूज और अफवाहों से बचने की जानकारी लोगों को दी।

BIG BREAKING: कांग्रेस नेत्री को जबरन उठाने का मामला, पुलिस कर रही अनदेखी, 24 घंटे से महिला का फोन स्वीच ऑफ, क्या कहा शिकायतकर्ता ने, सुनिए

रायगढ़ जिला कोरोना के संकट काल में ना सिर्फ बीमारी के खतरे से जूझ रहा था, बल्कि बाढ़ से भी इस इलाके में अच्छा खासा नुकसान हुआ। इस बीच शिकायतें लिखने और अपराधियों को पकड़ने वाली रायगढ़ पुलिस ने कुछ अलग किया।

 12 लाख मास्क बांटे

शहर के वॉलेंटियर्स के साथ मिलकर पुलिस ने कोरोना काल में बखूबी अपना फर्ज निभाया। रायगढ़ के एसपी संतोष सिंह ने जिले में 12 लाख मास्क बांटे, जिसे कई एजेंसियों ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बताया। इसके तहत लोगों को मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के लिए जागरूक किया। इसके साथ ही बाढ़ प्रभावित लोगों को खाने पीने की साम्रागी और मेडिकल सहायता दी। थानों में रिलीफ कैंप लगाए गए, पेट्रोलिंग वाहनों से दूर-दराज के इलाकों में मदद पहुंचाई गई थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button