Chhattisgarh

Chhattisgarh: राज्य सरकार की बड़ी कार्रवाई, 267 अधिकारी और कर्मचारियों सीधे हो सकते है बर्खास्त, जानिए क्या है वजह

रायपुर। (Chhattisgarh) फर्जी जाति प्रमाण पत्र के आधार पर शासकीय नौकरी करने वालों को अब बर्खास्त किया जाएगा। राज्य शासन इसके लिए निर्देश जारी किए हैं। जानकारी के मुताबिक जिन शासकीय कर्मचारियों के पास फर्जी, गलत जाति प्रमाण पत्र धारी शासकीय सेवकों को जिन्हें न्यायालय से स्थगन आदेश प्राप्त नहीं है। उन्हें तत्काल शासकीय सेवा से बर्खास्त किया जाए।

(Chhattisgarh) साथ ही कहा गया है कि स्थगन आदेश आदेश प्राप्त संपूर्ण प्रकरणों को महाधिवक्ता के माध्यम से शिघ्र सुनवाई के लिए हाईकोर्ट को अनुरोध किया जाएगा। इस दौरान सेवकों के जाति प्रमाण पत्र गलत पाए जाने पर उन्हें तत्काल महत्वपूर्ण पदों से अलग किया जाएगा। ऐसे सभी प्रकरणों की सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा विभागवार नियमित समीक्षा की जाए।

Raipur: टूरिज्म बोर्ड के जीएम सस्पेंड, रानू सिंह ने संस्पेंशन आर्डर किया जारी, 12 साल पुराने मामले में हुई कार्रवाई

 विगत दो वर्षों में 75 प्रकरण फर्जी, गलत पाए गए हैं। इन प्रकरणों में उच्च न्यायालय से स्थगन आदेश प्राप्ति के पश्चात कई अधिकारी, कर्मचारी अभी भी महत्वपूर्ण पदांें में कार्यरत हैं।

Bollywood को लगा तगड़ा झटका, फिर इस दिग्गज अभिनेता ने लगाई फांसी, घर में फांसी के फंदे पर लटकी मिली लाश

(Chhattisgarh)  गौरतलब है कि सामान्य प्रशासन विभाग को साल 2000 से 2020 के बीच फर्जी जाति प्रमाण पत्र के 758 मामले प्राप्त हुए थे। जिनमें से 659 मामलों के जांच के बाद निराकरण हो गया। मगर 267 प्रकरण अभी भी शेष हैं। हैं। जिसे संबंधित विभागों को कार्रवाई के लिए भेजा गया है। इनमें से अधिकांश प्रकरण उच्च न्यायालय में विचाराधीन है अथवा स्थगन आदेश प्राप्त हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button