छत्तीसगढ़

Chhattisgarh: गिधौरी पुलिस कर्मियों के ऊपर लगा प्रताड़ित करने का आरोप,पीड़िता ने एसडीओपी से लगाई न्याय का गुहार, पढ़िए क्या है पूरा मामला

प्रदीप देवांगन@बलौदाबाजार।  (Chhattisgarh) जिले में लगातार पुलिस विभाग द्वारा अवैध शराब बेचने वाले आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही किया जा रहा है। लेकिन आज हम बलौदाबाजार जिले के गिधौरी थाना के एक मामले के बारे में बताने जा रहे है जिसे सुन आपकी आंखें फ़टी की फटी रह जायेगी। दरसल नगर पंचायत टुण्ड्रा के वार्ड नंबर 4 में रहने वाली बबीता साहू ने गिधौरी थाना में पदस्थ तीन पुलिस कर्मियों के ऊपर परेसान करने का आरोप लगाते हुए बीते दिनों बिलाईगढ़ एसडीओपी के समक्ष शिकायत दर्ज किया है। (Chhattisgarh) जिसमें बबीता साहू ने बताया कि कुछ महीनों पूर्व जीवन यापन करने के लिए अवैध शराब बेच रही थी, जिसकी विरोध वार्ड वासियों ने नगर पंचायत सहित गिधौरी थाना में किया था, जिसके बाद से ही  पीड़िता बबीता साहू ने अवैध शराब बेचना बंद कर दिया। (Chhattisgarh) अवैध शराब बेचना बंद करने के बाद भी अब गिधौरी थाने में पदस्थ मुखेश दिवान प्रधान आरक्षक, नरेंद्र साव आरक्षक तथा  पैकरा आरक्षक के  द्वारा लगातार परेसान करने का आरोप लगा रही है।

पीड़िता ने यह भी आरोप लगाया है कि तीनों पुलिस कर्मी बार – बार शराब बेचने के लिए बोल रहे हैं, और 15000 हजार रुपयों की मांग भी कर रहे है, नही देने पर पीड़िता के ससुर को झूठी केश में फंसा कर गिरफ्तार करने की भी धमकी दे रहे है यहाँ तक तीनो पुलिस कर्मी के द्वारा पीड़िता के ससुर राम लाल साहू को जबजस्ती तीन दिन सुबह से  शाम तक थाने में बैठा के भी रखा हुआ था, साथ ही तीनो पुलिस कर्मी द्वारा पीड़िता के घर तीन बार छापामार कार्यवाही भी कर चुके है लेकिन उनके द्वारा पीड़िता के घर से शराब का एक बूंद भी नही मिला, उसके बावजूद पुलिस कर्मियों के इस रवैया से पीड़िता परेसान और डरी हुई है साथ ही गिधौरी थाना में पदस्थ तीनो आरक्षक द्वारा बिना महिला आरक्षक के पीड़िता बबिता साहू के घर बिना सर्च वारंट के शराब ढूढने  घुस जाते है।

पीड़िता ने इस मामले को लेकर एसडीओपी  संजय तिवारी से शिकायत कर न्याय का गुहार लगा रही हैं साथ ही जल्द कार्यवाही नही होने की एवज में पीड़िता बबिता साहू ने आवेदन में गिधौरी थाने के सामने आत्महत्या करने की भी चेतावनी दिया है। सूत्रों की माने तो गिधौरी थाने के समीपस्त ग्राम घटमड़वा सहित थाने के पीछे अवैध शराब की धडल्ले से बिक्री चलती हैं पर गिधौरी थाना प्रभारी आशीष राजपूत द्वारा उनके ऊपर कोई कार्यवाही नहीं करती, लेकिन जो लोग सुधारना चाहते है उन्हें बार बार शराब बेचने के लिए प्रताड़ित किया जा रहा है।

एक तरफ पुलिस विभाग कोरोना वारियर्स और अवैध शराब बेचने वालो के खिलाफ कार्यवाही करके अपनी पीठ थपथपा रही हैं तो दूसरी तरफ गिधौरी थाने में पदस्थ आरक्षकों की अवैध वसूली और लोगो को जबजस्ती शराब बेचने के लिए प्रताड़ित करने का मामला सामने आना पुलिस विभाग पर बड़ा प्रश्न खड़ा कर रहा हैं।पुलिस कर्मियों को  आमजनताओं का हितैषी कहा जाता हैं लेकिन यहाँ गिधौरी पुलिस  जनताओ को बेवजह परेसान कर अवैध रुपयों की मांग कर आम लोगो को परेशान कर रही हैं। अब देखना होगा कि आखिर कब तक बिलाईगढ़ एसडीओपी  संजय तिवारी और गिधौरी थाना प्रभारी आशीष राजपूत तीनो आरक्षक के ऊपर कार्यवाही की गाज कब तक गिराती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button