राजनीति

BJP: राज्यपाल को स्टेट प्लेन नहीं देने पर बीजेपी ने जताई गंभीर आपत्ति, कहा- सोनिया जी स्पष्टीकरण दें, माफ़ी माँगें मुख्यमंत्री

रायपुर। (BJP) प्रदेश भाजपाध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कांग्रेस सरकार द्वारा राज्यपाल को स्टेट प्लेन नहीं देने पर गम्भीर चिंता व्यक्त की है। साय ने कहा कि कांग्रेस लगातार सुनियोजित तरीक़े से लोकतंत्र और लोकतांत्रिक संस्थाओं के ख़िलाफ़ काम कर रही है। उन्होंने कहा कि यह महज़ संयोग नहीं हो सकता कि एक ही समय पर महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ दोनों से एक जैसी घटना सामने आ रही है। जहां पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों के बावजूद राज्यपालों को इस तरह अपमानित किया गया है।

साय ने कहा कि कांग्रेस का यह चरित्र रहा है कि वह हमेशा संवैधानिक संस्थाओं का दुरूपयोग करती रही है।(BJP)  और जहां ऐसे दुरुपयोग की गुंजाइश नहीं हो वहां ऐसे हथकंडे अपना कर अपनी भड़ास निकालती रही हैं।

(BJP) प्रदेशाध्यक्ष साय ने कहा कि आदिवासी वर्ग से आने वाली महामहिम राज्यपाल हमेशा यहां के वंचित वर्गों के हक़ में अपने अधिकारों का प्रयोग करती रही हैं, इसीलिए वे कांग्रेस की आंखों में खटक रही हैं। अभी उन्होंने पाँचवी अनुसूची के तहत अपने अधिकारों का उपयोग कर आदिवासी विरोधी भूपेश सरकार की अवैधानिक मंशा को विफल किया है। उन्होंने सवाल पूछा कि क्या इसीलिए मुख्यमंत्री की बौखलाहट तो सामने नहीं आ रही?

साय ने कहा कि इससे पहले भी कृषि बिलों पर तथा विश्वविद्यालय सम्बंधी मामलों पर महामहिम अपने अधिकारों का उचित उपयोग कर विधि का संरक्षण करती रही हैं, इसलिए भी वे शायद कांग्रेस सरकार की आंख की किरकिरी बनी हुई हैं।

प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि महाराष्ट्र में भी राज्यपाल कोश्यारी को एयरपोर्ट पहुंच कर इंतज़ार कराने के बावजूद विमान नहीं देना, और वैसा ही वाक़या छग में ही दुहराने से इस आशंका को बल मिलता है कि ऐसा कांग्रेस सरकारें सुनियोजित तरीक़े से केंद्रीय कांग्रेस के  इशारे पर तो नहीं कर रही है?

उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से इस मामले पर स्पष्टीकरण की मांग करते हुए, सीएम बघेल से माफ़ी मांगने को कहा है। साय ने कहा कि राज्यपाल प्रदेश की संवैधानिक मुखिया होती हैं। हर हाल में उनका सम्मान बनाये रखना शासन का कर्तव्य होना चाहिये।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button